बरेली, जेएनएन। India vs Pakistan T20 World Cup Whats App Status News : टी-20 वर्ल्डकप में रविवार को भारत-पाक के बीच हुए मैच में भारत की हार पर दिल्ली में आतिशबाजी हुई तो जमकर बखेड़ा हुआ। इंटरनेट मीडिया पर बहस चल ही रही थी कि जिला जेल में जेल वार्डर अर्श अली मलिक ने विवादित पोस्ट कर इसे हवा दे दी। उसने वाट्सएप स्टेटस पर लिखा कि ‘इंडिया ने देखे पाकिस्तान के तेवर, यहां तो दो ही भारी पड़ गए सानिया मिर्जा के देवर'। हिंदू जागरण मंच के जिलाध्यक्ष अरुण फौजी की तहरीर पर इज्जतनगर पुलिस ने उसके खिलाफ अभद्रता, धमकी देने व आइटी एक्ट की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर ली।

अरुण फौजी ने बताया कि अर्श अली ने पाकिस्तान के पक्ष में स्टेटस लगाया तो उसे फोन किया। आरोप है कि इस पर जेल वार्डर ने उनसे अभद्रता की और धमकी दी। स्टेटस न हटाने की बात पर अड़ गया। इसी के बाद मंगलवार को अरुण फौजी हिंदू जागरण मंच के कार्यकर्ताओं के साथ इज्जतनगर थाने पहुंचे। थाने का घेराव कर दिया। पुलिस को जेल वार्डर के स्टेटस का स्क्रीनशाट दिखाया। कहा कि जेल वार्डर से शिकायत की तो उसने स्वयं काे पाक का समर्थक बताया और पुलिस की हनक दिखाई।

उन्होंने अर्श अली मलिक के खिलाफ जनमानस की राष्ट्र व धर्म के प्रति भावनाओं को आहत किये जाने का आरोप लगाया। इसके बाद इज्जतनगर पुलिस ने जेल वार्डर के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली। पुलिस ने बताया कि मामले की जांच चल रही है। अर्श अली मलिक मूलरूप से मुरादाबाद का रहने वाला है। बरेली जिला जेल में उसकी पहली पोस्टिंग है। उधर, व्योधनखुर्द के शिवपुरी के दो युवकों ने इंटरनेट मीडिया पर अभद्र टिप्पणी की। इसको लेकर हिंदू जागरण मंच के कार्यकर्ताओं ने कड़ी आपत्ति जताई। युवकों के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा दर्ज करने की मांग की। पुलिस ने आरोपित कामरान खान व फैसल को हिरासत में ले लिया। उनके खिलाफ शांति भंग की कार्रवाई की।

जेल वार्डर के खिलाफ आइटी एक्ट व अन्य धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। जांच में सामने आए तथ्यों के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। संजय कुमार, इंस्पेक्टर,

पूरे मामले में जेल वार्डर से स्पष्टीकरण लिया जाएगा। इसकी पूरी रिपोर्ट अधिकारियों को सौंप दी जाएगी। मामले की जांच चल रही है वहीं से इस केस में कार्रवाई तय होगी। विजय विक्रम सिंह, जिला जेल अधीक्षक 

Edited By: Ravi Mishra