जासं, पीलीभीत : टाइगर रिजर्व में हरियाली एवं वन्यजीवों के साथ ही चूका स्पॉट का नजारा देखने पहुंचने वाले पर्यटकों को इस सीजन मे जेब ज्यादा ढीली करनी पड़ेगी। गाइड सफारी का प्रति व्यक्ति किराया उन्हें पहले से ज्यादा चुकाना पड़ेगा। अभी तक किराया तीन सौ रुपये प्रति व्यक्ति निर्धारित था लेकिन अब इसमें सौ रुपये की बढ़ोतरी किए जाने का प्रस्ताव किया गया है।

गुरुवार को पीलीभीत टाइगर रिजर्व मुख्यालय पर नए पर्यटन सत्र 2019-20 के लिए टूरिस्ट गाइड, सफारी मालिक एवं सफारी वाहन चालकों समेत क्षेत्रीय अधिकारियों के साथ डिप्टी डायरेक्टर नवीन खंडेलवाल ने बैठक की। गाइडों ने समस्याएं बताते हुए सफारी का किराया तीन सौ से बढ़ाकर चार सौ रुपये किए जाने का सुझाव दिया है। बढ़ोतरी के पीछे दुधवा नेशनल पार्क का उदाहरण भी दिया गया। इस पर डिप्टी डायरेक्टर ने प्रस्ताव बनाकर कमेटी में रखने का आश्वासन दिया। सफारी चालक और गाइडों के लिए ड्रेस और परिचय पत्र अनिवार्य किया। अगर कार्ड और वर्दी के बिना देखा गया तो उस पर जुर्माना किया जा सकता है।

गाइड लाए भाषा में सुधार

बैठक में एसडीओ माला रेंज उमेश चंद्र राय ने गाइडों से कहा कि आपकी भाषा जिले की पहचान बढ़ाएगी। बाहर से आए टूरिस्ट के सामने जिला सहित पीटीआर की गरिमा बढ़ाने का काम गाइड का है। टूरिस्ट को वन्य जीवन के साथ-साथ रूबरू कराने से पहले गाइडों को अपनी भाषा में भी सुधार लाने की जरूरत है।

नवंबर के पहले सप्ताह में होगी टूरिस्ट गाइड की ट्रेनिंग

डब्ल्यूडब्ल्यूएफ के परियोजना अधिकारी नरेश कुमार ने गाइडों को संबोधित करते हुए कहा कि वन और उसमें बसने वाला जीवन बहुत ही खूबसूरत है। जंगल से जुडऩे के लिए वॉचर, गाइड, जिप्सी ड्राइवर सहित कई तरीकों से युवाओं को रोजगार मिला है। इसलिए सबका दायित्व बनता है कि वन्य जीवन को बचाए। प्रकृति के हित में काम करें। नवंबर माह के पहले सप्ताह में टूरिस्ट गाइड की एक कार्यशाला होगी। जिसमें ट्रेनिंग और दिशा का गाइडों को अनुभव कराया जाएगा। 

 

क्या बोले पीटीआर के डिप्टी डायरेक्टर

नए पर्यटन सीजन की तैयारी के सिलसिले में सभी टूरिस्ट गाइडों व सफारी चालकों की बैठक ली है। उसी बैठक में किराया सौ रुपये बढ़ाने की बात आई है। इसका प्रस्ताव कमेटी में रखा जाएगा। साथ ही अगले हफ्ते गाइडों व सफारी चालकों के लिए प्रशिक्षण शिविर लगाया जाएगा। - नवीन खंडेलवाल, डिप्टी डायरेक्टर, पीटीआर

Posted By: Abhishek Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप