जेएनएन, बरेली: सूबे के स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ से सर्किट हाउस में नगर निगम के पार्षदों ने भी मुलाकात की। महापौर उमेश गौतम भी उनके साथ मौजूद रहे। पार्षदों ने मुलाकात में चौकी चौराहा चौकी इंचार्ज प्रीति पवार की शिकायत स्वास्थ्य मंत्री से की। पार्षदों ने स्वास्थ्य मंत्री को बताया कि जोगी नवादा पार्षद सुधा शर्मा के बेटे हेमंत को चौकी इंचार्ज ने पिछले दिनों थप्पड़ मारा था। इसकी शिकायत लेकर जब पार्षद चौकी चौराहा चौकी पर पहुंचे, तो चौकी इंचार्ज प्रीति पवार ने पार्षदों के साथ भी अभद्र व्यवहार किया। पार्षदों ने स्वास्थ्य मंत्री से चौकी इंचार्ज पर कार्रवाई की मांग की। सिकलापुर पार्षद विनोद सैनी ने बताया कि स्वास्थ्य मंत्री ने पुलिस अफसरों को इस मामले में चौकी इंचार्ज पर कार्रवाई के निर्देश दिए। मुलाकात करने वाले पार्षदों में रूप किशोर, अनुपम चमन, अविनेश, अतुल कपूर, इकबाल, सलीम, पार्षद पति वीरेंद्र शर्मा आदि मौजूद रहे। राह में कूड़े के ढेर, जलभराव देख बिगड़ गए मंत्री जागरण संवाददाता, बरेली : जगतपुर के अर्बन हेल्थ सेटर जाते वक्त स्वास्थ्य एवं चिकित्सा मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह स्मार्ट सिटी में गंदगी के सच से रूबरू हुए। रास्ते में कूड़े के ढेर और जलभराव था। गंदे पानी से ईंटों से सहारे गुजरने पड़ा। जब अंदर पहुंचे तो वहां भी गंदगी पसरी हुई थी। ऊपर से नगर स्वास्थ्य अधिकारी की शिकायतें सुनने को मिलीं। तब नगर आयुक्त को मंत्री के गुस्से का सामना करना पड़ा। जिला अस्पताल का निरीक्षण करने के बाद मंत्री जगतपुर अर्बन हेल्थ सेटर गए। उसे बंद पाया। तब जबकि सुबह आठ से रात आठ बजे तक खोलने के निर्देश हैं। यहां गंदगी का अंबार था। नगर आयुक्त राजेश कुमार श्रीवास्तव को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि आप लोग कर क्या रहे हैं। नगर स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. अशोक कुमार को पूछा तो वह मौजूद नहीं थे। भाजपा के महानगर महामंत्री राजबहादुर सक्सेना ने बताया कि इस खराब हालत के लिए नगर स्वास्थ्य अधिकारी से शिकायत भी की थी लेकिन उन्होंने ध्यान नहीं दिया। उल्टे कर्मचारियों को बता दिया। इतना सुनने के बाद कार्रवाई के लिए फरमान जारी हो गया। साथ में कर्मचारी भी नप गए। भाजपा के महानगर मंत्री अरुण कश्यप ने आरोप लगाया कि अर्बन हेल्थ सेटर से डॉक्टर और स्टाफ अकसर गायब रहता है। यहां मरीज भटकते रहते हैं। यह सुनकर मंत्री अपने महकमे के अफसरों पर भी बिगड़ गए।