बरेली में मुस्लिम युवक ने तलवार लेकर दौड़ाया, उदयपुर घटना दोहराने की धमकी

जेएनएन बरेली: अनुसूचित जाति के ग्रामीण ने मुस्लिम युवक पर गंभीर आरोप लगाए। कहा कि तलवार लहराकर उदयपुर जैसा हत्याकांड दोहराने की धमकी दी गई। पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए गए। दहशत फैलाने के लिए आरोपित ने तलवार लहराते फोटो भी वाट्सएप स्टेटस पर लगाया। मामला पुलिस तक पहुंचा तो सोमवार को जांच के आधार पर जवाब आया कि धमकी देने या नारेबाजी की पुष्टि नहीं हुई है। तलवार लहराने के आरोप की सच्चाई परखी जा रही है, उसी आधार पर कार्रवाई होगी। हाफिजगंज के सनेकपुर गांव में रहने वाले अनुसूचित जाति के सुधीर कुमार ने बताया कि दो जुलाई को वह हरहरपुर मटकली गांव की बाजार गए थे। शाम को लौटते समय लकड़ी की टाल पर बैठे मुस्लिम युवक ने जातिसूचक शब्द कहे। विरोध पर धमकी देकर भगा दिया। उसके पिता से शिकायत की लेकिन, सुनवाई नहीं हुई। आरोप है कि रविवार शाम को गांव के पास आरोपित व उसके दो साथियों ने मोटर साइकिल रोक ली। तलवार दिखाकर धमकी देना लगा कि तेरी हत्या भी उदयपुर के कन्हैया की तरह होगी। आरोपितों ने पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे भी लगाए। वहां से भागकर पड़ोस के कमुआ गांव पहुंचे, तब ग्रामीणों की सहायता से घर तक आ सके। सोमवार को वह थाने पहुंचे और कोतवाल अजीत प्रताप सिंह को तहरीर दी। पुलिस का कहना है कि शराब खरीद को लेकर दोनों पक्षों में विवाद हुआ था। गांव में कई लोगों से बात की, किसी ने पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए जाने की पुष्टि नहीं की है। उदयपुर जैसी घटना दोहराने के प्रमाण भी नहीं मिले। तलवार लहराने वाले फोटो की जांच कर रहे, उसी आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Jagran