जेएनएन, बरेली : आल इंडिया इत्तेहाद-ए-मिल्लत काउंसिल के अध्यक्ष मौलाना तौकीर रजा खां ने कहा कि जुमे को प्रस्तावित गिरफ्तारी आंदोलन में भीड़ ज्यादा पहुंचने की संभावना है। आरोप लगाया कि फिरकापरस्त ताकतें माहौल बिगाडऩे की ताक में हैैं। इस अंदेशे का इनपुट मिलने के बाद गिरफ्तारी देने की तारीख फिलहाल टाल दी है। जल्द ही नई तारीख का एलान करेंगे।

मौलाना ने दरगाह आला हजरत के समीप स्थित आवास पर पत्रकारों से बातचीत में कहा कि नागरिकता संशोधन कानून को लेकर लोगों में जबर्दस्त गुस्सा है। विरोध में हमने 786 लोगों के साथ गिरफ्तारी देने का एलान किया तो 1500 लोगों ने अपने नाम दे दिए। जिस तरह का माहौल बन गया है, उसमें ज्यादा भीड़ का सड़कों आना मुनासिब नहीं लगा। ऐसे में आंदोलन स्थगित कर दिया है। 786 के बजाय अब 500 लोगों के साथ गिरफ्तारी देंगे। गिरफ्तारी का स्थान नौमहला मस्जिद के बजाय चौकी चौराहा की गांधी प्रतिमा किया जा रहा है। मौलाना ने मेरठ में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारों को लेकर कहा कि कोई भी मुसलमान ऐसा नहीं कह सकता। इसके बावजूद मेरठ के एसपी ने आपत्तिजनक बयान दिया। ऐसे अफसर को बर्खास्त किया जाना चाहिए।

इससे पहले नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में पांच जनवरी को प्रस्तावित राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ और उसके अनुषांगिक संगठनों रैली स्थगित की जा चुकी है। अब आकर मौलाना ने भी जुमे को गिरफ्तारी देने से फिलहाल कदम खींच लिए हैैं।  

Posted By: Abhishek Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस