बरेली, रजनेश सक्सेना। Bareilly Love Jihad : नाबालिग हिंदू छात्रा (Hindu Student) जिसे लव (प्यार) समझ रही थी, वह जिहाद था। उसे निशाना बनाने के लिए बरेली से कलियर (उत्तराखंड) तक पूरी पटकथा लिखी गई। षड्यंत्र के अंतर्गत दो वर्ष उसका ब्रेनवाश करने का हर प्रयास हुआ। 23 जून को मुस्लिम लड़का यहाँ से कलियर ले गया। मजार में रखकर जबरन इबादत के तरीके सिखाए। मतांतरण (Conversion) और निकाह के लिए दबाव बनाया। मामला तूल न पकड़े इसलिए पुलिस पर्दा डाले रही मगर, छात्रा के बयानों से लव जिहाद (Love Jihad) का सच सामने आ गया।

हिंदू छात्रा से दोस्ती के बाद रची गई लव जिहाद की पटकथा

जिले के एक कस्बा में पढ़ने वाली हिंदू छात्रा की मुस्लिम लड़के से दोस्ती हो गई थी। लड़के ने अपने करीबी लोगों को इस बारे में बताया। बस, इसी के बाद लव जिहाद की पटकथा (Love Jihad Script) रच दी गई। लड़का नौंवी कक्षा में फेल होकर उत्तराखंड के किच्छा में ड्राइवरी करने लगा मगर, फोन पर उससे संपर्क में बना रहा।प्रेम संबंध की बात कहकर भविष्य के सपने दिखाता था।

कहता था तुम हिंदू बनी रहना, मुझे कोई परेशानी नहीं होगी

तुम हिंदू बनी रहना, घर में पूजा-पाठ करना, इससे मुझे कोई परेशानी नहीं कहकर उसने लड़की को भरोसे में ले लिया। 23 जून की दोपहर को उसके कस्बा आकर बाजार में बुलाया, वहीं से अपहरण से कर ले गया। इसके बाद उसके मददगारों ने कलियर ले जाने की सलाह दी।

मतांतरण के लिए मन बदलने को मजार में बिठाया पांच दिन

लड़की का मन बदल जाए और खुद मतांतरण कर ले इसके लिए पांच दिन तक सुबह से शाम तक मजार में बैठाया गया।इबादत के तरीके सिखाने का प्रयास किया। लड़की का मन उखड़ने लगा तो यह सब जबरन कराया गया। मतांतरण और निकाह करने का दबाव बनाया जाने लगा। 

Edited By: Ravi Mishra