जागरण संवाददाता, बरेली: आधा वित्तीय वर्ष बीतने के बाद अब तक संपत्ति कर की प्राप्ति मात्र 17 फीसद है। बारिश में शहर की सड़कें गड्ढों में बदल गई हैं। शनिवार को नगर आयुक्त अभिषेक आनंद ने टैक्स और निर्माण विभाग के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक कर फील्ड में निकलकर टैक्स प्राप्ति बढ़ाने और 31 अक्टूबर तक शहर की सड़कों को गड्ढा मुक्त करने के निर्देश दिए।

नगर निगम को पिछले साल करीब 68 करोड़ रुपये टैक्स मिला था। इस बार 74 करोड़ रुपये टैक्स का लक्ष्य रखा गया है। शहर में 1.5 लाख मकान हैं। इनसे नगर निगम टैक्स वसूलता है। वित्तीय वर्ष के शुरुआत में ही नगर निगम ने करदाताओं के टैक्स बिल जारी करने में सुस्ती दिखाई। बोर्ड बैठक में जब पार्षदों ने मामला उठाया तो करदाताओं के बिल पहुंचने शुरू हुए। नगर आयुक्त ने टैक्स की समीक्षा की तो पता छह महीने में लक्ष्य का मात्र 17 फीसद यानी करीब 13 करोड़ रुपये ही टैक्स जमा हो पाया है। उन्होंने टैक्स विभाग के अधिकारियों से फील्ड में निकलकर रिकवरी बढ़ाने के निर्देश दिए। काम नहीं करने वालों पर कार्रवाई की चेतावनी भी दी।

शासन ने गड्ढा मुक्ति के दिए हैं निर्देश

शासन ने हर हाल में 31 अक्टूबर तक सभी सड़कों को गड्ढा मुक्त करने के निर्देश दिए हैं। नगर आयुक्त ने तय समयसीमा के बाद सड़कों पर गड्ढे दिखाई देने पर कार्रवाई की चेतावनी भी दी है।

वर्जन

टैक्स और निर्माण विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक कर टैक्स रिकवरी बढ़ाने व सड़कों को गड्ढा मुक्त करने के निर्देश दिए हैं।

अभिषेक आनंद, नगर आयुक्त

Edited By: Jagran