जासं, बरेली: चोरों ने एक पूर्व प्रधान के घर को निशाना बनाया। चोर ताले तोड़कर घर में रखा लाइसेंस रिवाल्वर, कारतूस, दो लाख रुपये व लाखों की कीमत के जेवर चुराकर ले गए। पुलिस ने मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया है।

गांव बालीपुर में सोमवार रात पूर्व प्रधान खुन्नी सिंह परिवार के साथ सो रहे थे। उनके मेन गेट पर चैनल लगा है, जिसमें ताला लगा था । रात में किसी समय चोर चैनल का ताला तोड़ कर घर में घुस आए। खुन्नी सिंह के बेटे अमित ने बताया कि परिवार के सभी लोग दो कमरों में सो रहे थे। उन कमरों में ताला लगा था ।जिन कमरों में परिवार के लोग सो रहे थे, चोरों ने उनमें बाहर से कुंडी लगा दी। इसके बाद ताले तोड़कर चोर कमरे से लाइसेंसी रिवाल्वर, 25 कारतूस, दो लाख रुपये, दो सोने की चेन, झुमकी, पाजेब चुराकर फरार हो गए। अमित ने बताया कि उनके पिता पैरालिसिस के मरीज हैं। सूचना पर एसएसआइ अली हसन डाग स्क्वाड व फारेंसिक टीम के साथ मौके पर पहुंचे। टीम ने छानबीन की, लेकिन चोरों का कोई सुराग नहीं लगा। एसएसआइ अली हसन ने बताया कि मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। जल्द ही चोरों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। दो दिन पहले इसी तरह चोरों ने बालीपुर से सटे गांव उगनपुर में भी शिक्षक के घर को निशाना बनाकर 10 लाख रुपये के जेवरात साफ कर दिए थे।

---

टायर व्यापारी की कार का शीशा तोड़कर जेवर व नकदी उड़ाई

जासं, बरेली: नावेल्टी चौराहा स्थित एक होटल में खाना खा रहे टायर व्यापारी की कार का शीशा तोड़कर चोरों ने जेवर व छह हजार रुपये चुरा लिए। व्यापारी लौटा तो कार का शीशा टूटा देखकर हैरान रह गया। कोतवाली पुलिस को घटना की जानकारी देकर व्यापारी पीलीभीत चला गया।

पीलीभीत के शकील ने बताया कि वह बहन को दवा दिलवाने बरेली पहुंचे थे। दोपहर करीब तीन बजे वह बहन के साथ खाना खाने नावेल्टी चौराहे के पास स्थित होटल चले गए। गाड़ी उन्होंने होटल के बाहर खड़ी कर दी। वापस लौटने पर उन्हें कार का शीशा टूटा मिला। तुरंत ही कार का गेट खोलकर देखा तो गाड़ी में रखा बहन का बैग गायब था। शकील के मुताबिक बैग में बहन के छह हजार रुपये व जेवर थे। रेस्टोरेंट संचालक को उन्होंने घटना की जानकारी दी तो वह भी हैरत में पड़ गए। आस-पास के लोगों से पूछताछ शुरू हुई। आरोपित को हर किसी ने देखने की जानकारी से इन्कार किया। कोतवाली पुलिस को सूचना दी गई। एसएसआइ कोतवाली वीरेंद्र सिंह ने बताया कि व्यापारी की ओर से मामले में कोई तहरीर नहीं दी गई है। जांच कराई जा रही है।

Edited By: Jagran