बरेली, जेएनएन। Corona infection in December : सूबे में विधानसभा चुनाव से पहले देश में ओमिक्रोन के मामले तेजी से फैल रहे हैं। ओमिक्रोन के खौफ के बीच मंडल में कोरोना संक्रमित मरीजों की स्थिति को भी जाना जा रहा है। इसमें पता चला कि दिसंबर में पीलीभीत में एक भी मरीज नहीं मिला, जबकि बरेली में सबसे ज्यादा मरीज हैं। चुनाव से पहले से मंडल में संक्रमण की स्थिति को परखने के लिए दिसंबर में कोराना के संक्रमितों का आंकड़ा मांगा गया है।

इसके लिए जब जानकारी जुटाई गई तो पता चला कि बरेली जिले में मंडल में अन्य जनपदों की तुलना में सबसे ज्यादा 17 संक्रमित मिले हैं। इनमें 30 दिसंबर तक चार सक्रिय संक्रमित थे। इसके बाद दूसरे स्थान पर शाहजहांपुर जिला है, जहां पर 10 केस निकले हैं, जिसमें नौ संक्रमित अब भी हैं। वहीं, पीलीभीत में एक भी संक्रमित नहीं था, जबकि बदायूं में दो लोग कोरोना संक्रमण की चपेट में आए थे, जिसमें एक की रिपोर्ट बाद में निगेटिव आ गई थी।

जिला दिसंबर में केस अब केस 18 साल से कम 18 साल से ज्यादा

बरेली 17 4 0 17

बदायूं 2 1 0 2

पीलीभीत 0 0 0 0

शाहजहांपुर 10 9 2 8

कुल 29 14 2 27

नोट : आंकड़े 30 दिसंबर तक के हैं।

मां और बेटी मिलीं संक्रमितः शहर के मोहल्ला प्रेमनगर के कानून गोयन निवासी एक महिला और उसकी बेटी भी कोरोना संक्रमित मिली हैं। दोनों को हल्का बुखार और बदन दर्द की शिकायत थी। इस वजह से गुरुवार को दोनों ने दोनों में अल्फा लैब से ट्रूनाट की जांच कराई तो संक्रमण की पुष्टि हुई। दोनों रोगी होम आइसोलेशन में हैं। दोनों लोगों से 13 लोग संपर्क में थे, उनकी भी कोरोना जांच कराई जाएगी।

29.25 लाख को पहली डोज, 17.91 लाख को लगी दूसरी डोज : कोरोना संक्रमण की संभावित तीसरी लहर की वजह से शासन ने कोरोनारोधी वैक्सीन का टीकाकरण तेजी के साथ कराने के निर्देश दिए थे। यही वजह है कि अब स्वास्थ्य विभाग की टीम वैक्सीनेशन पर ध्यान दे रही है। जिले भर में शुक्रवार को 23290 लोगों ने वैक्सीनेशन कराया। 31 दिसंबर तक 29, 25,115 लोगों को पहली डोज और 17,91,662 लोगों को कोरोना की दूसरी डोज लगवाई गई। स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार शुक्रवार को 52 हजार लोगों को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य था, जिसमें से 44.79 प्रतिशत लोगों को वैक्सीनेशन किया गया।

Edited By: Samanvay Pandey