मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

बरेली, जेएनएन : सीबीगंज स्थित औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आइटीआइ) के परीक्षा केंद्र शांति मौर्य हायर सेकेंडरी स्कूल से मंगलवार को इलेक्ट्रीशियन फिटर थ्योरी का पेपर लीक हुआ था। परीक्षार्थियों ने केंद्र के बाहर चाय की दुकानों पर बैठकर पेपर हल किया। ऑडियो के साथ प्रश्न पत्र में पूछे गए सवालों के जवाब का एक पर्चा भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था।

मगर राजकीय आइटीआइ के प्राचार्य ने पेपर लीक होने की घटना को बगैर जांच के ही नकार दिया। इसलिए क्योंकि राजकीय आइटीआइ के ही छात्रों की बैक परीक्षा थी। इस पूरे घटनाक्रम में परीक्षा केंद्र और राजकीय आइटीआइ प्रशासन सवालों के घेरे में है।

यह भी पढ़ें : चाय की दुकान से जवाब कर लाए तैयार, ऑडियो और फोटो वायरल : www.jagran.com/uttar-pradesh/bareilly-city-teacher-kept-waiting-and-the-children-were-ready-to-answer-from-the-tea-shop-bareilly-news-19467976.html

बुधवार को शांति मौर्य परीक्षा केंद्र पर कड़ी चौकसी नजर आई। पर्याप्त सुरक्षा-व्यवस्था थी। हालांकि, एक दिन पहले चाय की जिन दुकानों पर पेपर हल किया गया था। सुबह को वह बंद मिलीं। दुकानों के बाहर पर्चियां बिखरी थीं। इसके बावजूद आइटीआइ प्रशासन की ओर से कोई जिम्मेदार जांच के लिए नहीं पहुंचा।

केंद्र ने बताई साजिश
पेपर लीक होने, तीन हजार में बेचे जाने और चाय की दुकानों पर छात्रों के पेपर हल करने की घटना को परीक्षा-केंद्र शांति मौर्य की प्रबंधक शांति मौर्य ने साजिश ठहराया है। उनका कहना है कि स्कूल को बदनाम करने के लिए ऐसा किया जा रहा है।

छात्र को लगाई फटकार
बुधवार को परीक्षा शुरू होने के बाद भी विद्यार्थियों का केंद्र के बाहर आना-जाना लगा था। इस पर एक शिक्षक ने कुछ छात्रों को जमकर फटकार लगाई। स्पष्ट किया कि परीक्षा खत्म होने से पहले कोई बाहर नहीं जा सकता है।


पेपर लीक होने के आरोपों के संबंध में केंद्राध्यक्ष और प्रभारी से पूछताछ की गई है। इसमें सामने आया कि पेपर लीक नहीं हुआ है। परीक्षा नियमानुसार हो रही है। -राजकुमार, प्राचार्य, राजकीय आइटीआइ  

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Abhishek Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप