बरेली, जागरण संवाददाता। लालच बुरी बला है। यह कहावत चरितार्थ हुई बरेली में, जहां10 रुपये के लालच में दाे सेल्समैन हवालात पहुंच गए। आपको जानकर भले ही यह हैरानी भरा लग रहा हो लेकिन, यह सच है। दोनों के विरुद्ध आबकारी अधिकारी ओर से धोखाधड़ी व आबकारी अधिनियम की धारा में प्राथमिकी लिखाई गई।

एमआरपी से अधिक कीमत पर बेच रहे थी बीयर

आरोपित सुनील कुमार डोहरा रोड व प्रदीप सक्सेना गनेशनगर मढ़ीनाथ का रहने वाला है। आबकारी निरीक्षक विशाल भारती ने कोतवाली में लिखाई प्राथमिकी में बताया कि चौपुला रोड स्थित बीयर की दुकान पर चेकिंग के लिए पहुंचे। आरोपित सुनील कुमार व प्रदीप सक्सेना दोनों बीयर की केन दस रुपये अधिक मूल्य पर बेचते मिले। आरोपितों ने पूछताछ में स्वीकारा कि लालचवश झूठ बोलकर एमआरपी छिपाते हुए बीयर बिक्री की। हिरासत में लेकर दोनों को टीम कोतवाली लेकर पहुंची। पुलिस ने दोनों के विरुद्ध प्राथमिकी लिखकर उन्‍हें गिरफ्तार कर लिया। 

अवैध शराब के साथ आरोपित गिरफ्तार

अवैध शराब के साथ आरोपित को कैंट पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। इंस्पेक्टर कैंट बलवीर सिंह ने बताया कि आरोपित नन्हें उर्फ नन्हू मिर्जापुर कैंट का निवासी है। आरोपित साथियों संग बारी नगला गांव के कच्चे रास्ते पर अवैध रूप से शराब बना रहा है। उसके दोनों साथी रामकुमार उर्फ रमले और सेवाराम मौके से फरार हो गए। आरोपित के पास से 20 लीटर शराब, डेढ़ किलो यूरिया व शराब बनाने के उपकरण बरामद किये गए। आरोपित को जेल भेज पुलिस अब उसके साथियों की तलाश में जुटी है।

Edited By: Vivek Bajpai

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट