बरेली, जेएनएन। कोरोना काल में मरीजों के तीमारदारों के साथ इंजेक्शन और दवाई दिलाने के नाम पर ठगी शुरू हो गई है। रविवार को दिल्ली में संक्रमित के स्वजनों को इंजेक्शन दिलाने के नाम पर एक व्यक्ति ने ऑनलाइन उन्हें अपना शिकार बनाया। ऑनलाइन एडवांस रुपये देकर जब युवक से संपर्क नहीं हुआ तो उन्हें शक हुआ। इस पर तीमारदार ने छानबीन की तो पता चला की बरेली के युवक की ओर से ठगी की गई है। तीमारदार ने डीजीपी समेत बरेली के अधिकारियों को ट्विटर के जरिए शिकायत दर्ज कराई है। शिकायत को गंभीरता से लेते हुए अधिकारियों ने जांच कर कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है।

इंजेक्शन के नाम पर पटना के रहने वाले ऋषभ सेठ ठगी का शिकार हुए। उन्होंने बरेली पुलिस को बताया कि उनका संपर्क ठग से व्हाट्सअप से हुआ, जो बरेली का रहने वाला है। शिकायत में बताया कि युवक ने उनसे 12 इंजेक्शन सोमवार को सुबह आठ बजे तक ग्रेटर नोएडा के एवेन्यू गौर सिटी में पहुंचाने की बात कही। इस पर युवक ने उनसे एडवांस के रूप में दस हजार रुपये देने की बात कही। बताया कि पैसे भेजने के बाद युवक से संपर्क होना बंद हो गया।ऋषभ ने बरेली पुलिस को व्हाट्सअप पर युवक से हुई बातचीत और गूगल पे से भेजे गए रुपये का स्क्रीन शॉट भेजकर कार्रवाई करने की गुहार लगाई। एडीजी बरेली ने मामला साइबर सेल में जांच को सौंप दिया है। वहीं शिकायतकर्ता को आरोपित के खिलाफ कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप