जेएनएन, बदायूं : जिले की बिसौली विधानसभा सीट से भाजपा विधायक और विधानसभा चुनाव प्रत्याशी कुशाग्र सागर फंस गए हैं। उन पर और भाजयुमो के पदाधिकारियों समेत 16 लोगों के खिलाफ मारपीट, जान से मारने की धमकी देने, गाली गलौज करने, आचार सहिंता का उल्लंघन और कोविड गाइड लाइन का पालन न करने का मुकदमा दर्ज कराया गया है। बिसौली इंस्पेक्टर ऋषिपाल सिंह ने बताया कि बिल्सी रोड बिसौली के रहने वाले मीडिया कर्मी विपिन कुमार ने तहरीर दी थी कि मुहल्ला कच्ची सराय में फहीम पुत्र पंडित फल वाले क यहाँ विधायक कुशाग्र सागर अपने समर्थकों के साथ भीड़ एकत्र कर जनसभा कर रहे हैं। उसने बताया कि इसकी जानकारी पर वह कवरेज करने लगे। इसी दौरान विधायक कुशाग्र सागर ने अपने कार्यकर्ताओं को इशारा किया तो उन सभी ने उसे घेर लिया और पकड़ कर गली-गलौच करते हुए बाहर ले जाकर पीटना शुरू कर दिया। बताया कि उन लोगों ने उसके मोबाइल और कैमरे भी तोड़ दिये। इंस्पेक्टर ऋषिपाल सिंह ने बताया कि तहरीर के आधार पर जांच कराई गई तो मामला सही पाया गया। इस पर विधायक कुशाग्र सागर, राजू कोली, नितिन मिश्रा, अभिषेक शर्मा, दीपक शाक्य, मकसुदी, इश्तियाक, इजहार, जाकिर, महमूद, ओबेसी, रशीद, चुन्नू और सादिक व कुछ अज्ञात लोगों के खिलाफ़ मारपीट, गाली गलौज, जान से मारने की धमकी देना, कोरोना फैलाने, एपिडेमिक एक्ट और आचार संहिता का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। विधायक कुशाग्र सागर का कहना है कि उन पर लगे आरोप गलत हैं। ये चुनाव में छवि खराब करने के लिए विरोधियों के इशारे पर लगाए गए हैं। 

Edited By: Ravi Mishra