बरेली, जेएनएन। रविवार को बेमौसम बारिश होने के बाद सोमवार को सुबह बादल छाए रहने के साथ मामूली बूंदाबांदी हो गई। इससे सर्दी का सितम आम जन पर जारी रहा। मौसम में बदलाव आने से आगामी दिनों में कोहरा छाने की संभावना है। इसके साथ ही सर्दी भी बढ़ेगी। यही नहीं, न्यूनतम तापमान पांच डिग्री सेल्सियस से कम जाने की संभावना बनी हुई है। इसके साथ ही शीतलहर चलने से लोगों को सर्दी ज्यादा सताएगी।

इस बारे में पंतनगर कृषि विश्वविद्यालय के मौसम वैज्ञानिक डा. आरके सिंह ने बताया कि रविवार को 14 मिलीमीटर बारिश होने के बाद सोमवार को भी बूंदाबांदी होने के आसार हैं। इसके साथ ही बादल छाए रहेंगे और कुछ देर तक धूप भी निकल सकती है। इसके बाद मौसम बदलेगा और 25 और 26 जनवरी को मौसम साफ रहेगा, लेकिन कोहरा छाया रहेगा। गलन बढ़ने के साथ ही तापमान में गिरावट आएगी। शीतलहर चलने की संभावना भी है। इसके साथ ही ज्यादा बारिश होने से यह पानी मटर, टमाटर, दलहनी, तिलहनी फसलों को नुकसान करेगा। इन फसलों के साथ ही आलू में भी झुलसा रोग आ जाएगा। गेहूं और रबी की अन्य फसलों में पीला रोग आए जाएगा, जिसमें पत्तिियां पीली हो जाएंगी। इससे उत्पादन पर फर्क पड़ेगा।

बारिश से बढ़ी ट्रिपिंग, बिजली आपूर्ति प्रभावित: बेमौसम बारिश की वजह से शहर एवं देहात समेत कई इलाकों में लाइन में फाल्ट हो गए। इससे बिजली आपूर्ति बाधित हो गई। उपभोक्ताओं का खासी परेशानी का करना पड़ा। विद्युत उपभोक्ताओं ने बिजली कटौती किए जाने की शिकायत विभागीय अफसरों से की।

पीलीभीत में तीसरे दिन भी छाए बादल, बारिश की संभावना: लगातार तीसरे दिन भी आसमान पर बादल छाए हुए हैं। मौसम विभाग ने अभी और बारिश होने का पूर्वानुमान दिया है। साथ ही मंगलवार को भी आसमान पर बादल उमड़ने की संभावना बताई है। तराई के जिले में तीन दिन से मौसम का मिजाज बिगड़ा हुआ है। पिछले दो दिन रुक रुक कर बारिश होती रही। रविवार को देर शाम भी रिमझिम बारिश हुई लेकिन रात में यह सिलसिला थम गया। सोमवार को सुबह से आसमान पर बादल घिरे हुए हैं। धूप नहीं खिलने की वजह से शीतलहर का प्रकोप बना हुआ है। राजकीय कृषि विज्ञान केंद्र के वरिष्ठ विज्ञानी डा. शैलेंद्र सिंह ढाका ने पंतनगर स्थित कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के मौसम विभाग के हवाले से जानकारी दी कि रविवार की रात न्यूनतम तापमान 6.8 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। सोमवार को दिन में अधिकतम तापमान 16 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने की संभावना है। डा. ढाका के मुताबिक अभी और बारिश होने के आसार हैं। मंगलवार को भी आसमान पर बादल बने रहेंगे लेकिन बारिश नहीं होगी। इसके बाद मौसम साफ हो जाने की संभावना है। हालांकि उत्तर पश्चिमी हवा चलने से वातावरण में ठंड का प्रभाव बना रहेगा।

Edited By: Ravi Mishra