बरेली, जेएनएन। Dev Guru Jupiter Transit in Capricorn : सोमवार यानी 18 अक्टूबर को गुरुदेव यानी बृहस्पति ग्रह मार्गी होने जा रहे हैं। ज्योतिष शास्त्र में गुरु के चाल परिवर्तन को काफी महत्वपूर्ण माना जाता है। गुरु को सुख-समृद्धि और ज्ञान का कारक माना जाता है। वर्तमान में गुरु वक्री अवस्था में मकर राशि पर संचार कर रहे हैं। शनि की स्वराशि मकर में गुरु 120 दिन बाद मार्गी होने जा रहे हैं।ज्योतिष गणना के अनुसार, गुरु 20 जून 2021 को कुंभ राशि में वक्री हुए थे। गुरु 120 दिन बाद अब मकर राशि में मार्गी होने जा रहे हैं। ज्योतिषाचार्य मुकेश मिश्रा ने बताया कि हिंदू पंचांग के अनुसार सोमवार को गुरु वक्री से मार्गी होंगे। मकर राशि को गुरु की नीच राशि माना जाता है।

मार्गी गुरु का राशियों पर प्रभावः गुरु मार्गी होने के बाद कुछ राशि वालों को शुभ परिणाम देंगे। उन्होंने बताया कि मार्गी गुरु कर्क, धनु और मीन राशि वालों को नौकरी में तरक्की, मकान और वाहन सुख प्रदान कर सकते हैं। इसके साथ ही कन्या और वृश्चिक राशि वालों को मिले-जुले परिणाम प्राप्त होंगे। वृषभ, सिंह और मकर राशि वालों को इस दौरान स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखने की जरूरत है। मीन राशि वालों को शिक्षा और व्यापार क्षेत्र में उत्तम परिणाम मिलेंगे।

गुरु की स्वराशियांः ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, धनु और मीन राशि को गुरु की स्वराशि माना गया है। कर्क राशि में गुरु उच्च के माने जाते हैं। इसके साथ ही गुरु को पुनर्वसु, विशाखा, पूर्वा और भाद्रपद नक्षत्र का स्वामी माना गया है।

Edited By: Samanvay Pandey