जागरण संवाददाता, बरेली। Dengue in Bareilly : डेंगू का प्रकोप अब फैल चुका है। शुक्रवार तक जिले में 200 से अधिक डेंगू संदिग्ध लोग मिले हैं। यह सभी एनएस1 टेस्ट में पाजिटिव आए हैं। सभी का एलाइजा टेस्ट के लिए सैंपल लिया जा चुका है। जबकि अभी तक पूरे जिले में 20 लोगों में डेंगू की पुष्टि हो चुकी है।

प्रधान के पति की मौत के बाद स्वास्थ्य महकमा हुआ सतर्क

गुरुवार को बरेली के हुरहुरी गांव में हुई प्रधान के पति की मौत के बाद प्रशासन से लेकर स्वास्थ्य विभाग तक सभी सतर्क हो गए। आनन फानन में गांव-गांव जाकर कैंप लगाए जाने लगे। जिसमें दर्जनों लोग डेंगू संदिग्ध मिल भी रहे हैं। सभी का सैंपल लिया गया है।

चार लोगों में डेंगू की पुष्टि

बरेली सीएमओ डा. बलवीर सिंह ने बताया कि, शुक्रवार तक को जिले में हुई जांच में 217 लोग एनएस1 टेस्ट में पाजिटिव पाए गए। 26 लोग एनएस1 कार्ड में पाजिटिव आए। इसी के साथ चार लोगों में एलाइजा जांच से भी डेंगू की पुष्टि हुई है। अब जिले में डेंगू के कुल सक्रिय मामले 20 हो चुके हैं।

दो ब्लॉक के 13 गांव में सबसे ज्यादा मरीज

सीएमओ ने बताया कि जिले में दो ब्लाक और 13 गांव ऐसे हैं। जहां सबसे ज्यादा डेंगू पीड़ित हैं। 20 डेंगू पीड़ितों में 15 देहात क्षेत्र तो पांच शहरी क्षेत्र में हैं। सभी जगहों पर लगातार फागिंग कराई जा रही है। लार्वा की जांच के लिए भी घर-घर टीमें भेजी जा रही हैं।

बरेली में आवारा कुत्तों ने दो महिलाओं को काटा

बरेली शहर में बंदर और कुत्तों का उत्पात कम होने का नाम नहीं ले रहा है। शनिवार को वार्ड 57 फाल्तुनगंज में टहले रहे आवारा कुत्ते ने दो महिलाओं को काटकर घायल कर दिया। स्थानीय लोगों ने नगर निगम की टीम की सूचना दी। थोड़ी देर बाद पहुंची निगमकर्मियों की टीम ने कुत्ते को पकड़कर अस्पताल में छोड़ दिया।

नगर क्षेत्र में 40 हजार से अधिक आवारा कुत्ते टहल रहे हैं। जबकि दस हजार से अधिक पालतू कुत्ते हैं। लेकिन नगर निगम के स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही से कुत्ते सड़क पर बेखौफ टहल रहे हैं। शुक्रवार को फाल्तुनगंज में घर के बाहर काम कर रहीं 90 वर्षीय रूपवती और काैशल्या देवी को एक आवारा कुत्ते ने काट लिया।

दोनों लोगों के हाथ में गहरा जख्म हो गया। पार्षद धनदेवी ने नगर निगम की टीम को फोनकर बुलाया। निगमकर्मियों ने वार्ड में टहल रहे कुत्ते को कब्जे में ले कर अस्पताल में बधियाकरण के लिए छोड़ दिया। पुश चिकित्सा अधिकारी डा. आदित्यप्रकाश ने बताया कि जून से अब तक 500 कुत्तों का बधियाकरण हुआ है। 30 लोगों ने पालतू कुत्ते का रजिस्ट्रेशन कराया है।

Edited By: Samanvay Pandey