जेएनएन, बरेली : एक समय था जब पार्टी, शादी या किसी खास अवसर पर ही लोग सजते संवरते थे। दूसरों से हटकर दिखने के लिए मेकअप का सहारा लिया जाता था लेकिन अब वीडियो और फोटोग्राफी के इस दौर में हर दिन कूल और फंकी लुक का ट्रेंड चल पड़ा है। शहरी युवाओं में इसका क्रेज देखने को मिल रहा। फिर क्या पार्टी और क्या वर्किंग डे। हर रोज युवक-युवतियां लाइट मेकअप का सहारा ले रही हैं। मतलब फाउंडेशन, आइ लाइनर आदि का बेहद सादगी से प्रयोग। मेकअप एक्सपर्ट मोनिका बताती हैं कि युवा अपनी त्वचा और पर्सनालिटी के मुताबिक मेकअप टिप्स लेते हैं। कई क्लाइंट तो फोन पर ही टिप्स लेकर खुद से मेकअप करते हैं। कुछ ऑफिस जाने से पहले पार्लर भी आते हैं। इसमें लड़कियां ही नहीं लड़कों की भी संख्या अधिक है।

दोस्तों में बनती है धाक

रुहेलखंड विश्वविद्यालय से इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहे शोएब को मॉडलिंग का शौक है। शोएब बताते हैं कि वह हमेशा खुद को दूसरों से अलग रखने की कोशिश करते हैं। लाइट मेकअप का इसके लिए सहारा लेते हैं। इससे वह नेचुरल भी दिखते हैं और स्मार्टनेस भी बढ़ जाती है।

चेहरे की बढ़ जाती चमक

सिविल लाइंस में रहने वाली रुपाली भी लाइट मेकअप पर भरोसा करती हैं। कहती हैं कि हैवी मेकअप अक्सर महफिलों में धुल जाती है। पसीने या फिर पानी से सब साफ हो जाता है। ऐसे में लाइट मेकअप ही काम आता है। यह आपको हमेशा दूसरों से अलग भी रखेगा और इससे चेहरे की चमक भी बनी रहेगी।

14 साल की उम्र से ही कूल बनने की चाहत

ब्यूटी एक्सपर्ट शेफाली बताती हैं कि इन दिनों यूट्यूबर और टिकटॉक पर वीडियो बनाने का चलन है। छोटे-छोटे बच्चे खूब वीडियो बना रहे हैं। ऐसे में 14 साल की उम्र से ही बच्चे कूल और फंकी बनने के लिए लाइट मेकअप का सहारा लेने लगे हैं। 30 साल की उम्र तक इसका क्रेज ज्यादा देखने को मिलता है। इसके बाद लोग खुद को जवां दिखाने के लिए हैवी मेकअप का सहारा लेते हैं।

 

Posted By: Abhishek Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस