जागरण संवादताता, बरेली : लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा पिछड़ा वर्ग को साधने की तैयारी में जुट गई है। प्रत्येक कार्यकर्ता को 25-25 लोगों को पार्टी से जोड़ने का लक्ष्य दिया गया है। इसके साथ ही अन्य पिछड़ा वर्ग के युवाओं के नाम वोटिंग लिस्ट में भी जुड़वाने का निर्देश दिए गए हैं।

भाजपा पिछड़ा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष राजेश वर्मा ने रविवार का सिविल लाइंस स्थित महापौर उमेश गौतम के कैंप कार्यालय पर ब्रज क्षेत्र के पिछड़ा मोर्चा के पदाधिकारियों के साथ बैठक की। कार्यकर्ताओं से कहा कि लोकसभा चुनावों को लेकर लोगों से संपर्क साधना शुरु कर दें। क्षेत्रीय महामंत्री सुरेश राठौर, मीडिया प्रभारी नरेंद्र कश्यप, महामंत्री शैलेंद्र विक्रम, जोपीएस पाल ने अध्यक्ष का स्वागत किया। बैठक में कैबिनेट मंत्री संतोष गंगवार, प्रदेश महामंत्री पूरन लाल, क्षेत्रीय अध्यक्ष आरएस पाल सहित ब्रज क्षेत्र के 16 जिलों के अध्यक्ष मौजूद रहे।

राजभर के मन की बात वो ही जानें

इसके बाद प्रेसवार्ता में भाजपा पिछड़ा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष राजेश वर्मा ने कैबिनेट पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री ओमप्रकाश राजभर के छोटे-छोटे जातिगत दलों को जोड़कर भागीदारी आंदोलन मंच बनाने पर दबी जुबान में तंज कसा। उन्होंने कहा कि राजभर जो साबित करना है चाहते हैं, वही जानें। चुनावों में जनता सबकुछ साफ कर देगी। एससी-एसटी एक्ट पर कहा कि विपक्ष ने बड़ा मुद्दा बना दिया है। जो लोग समानतावादी व्यवस्था के खिलाफ हैं, उन्हें इससे डर लग रहा है, आम जनता को इससे कोई भय नहीं है।

अब जागे आंवला सांसद, गलती मानी

आंवला में बुखार के प्रकोप से हुई मौतों के मामले में सांसद धर्मेद्र कश्यप ने गलती स्वीकार की। रविवार को प्रेसवार्ता में पहुंचे सांसद ने कहा कि अगर समय रहते संसदीय क्षेत्र में साफ-सफाई और एंटी लार्वा के छिड़काव का इंतजाम कर दिया जाता तो इतनी मौतें नहीं होतीं। उन्होंने कहा कि मौतों के आंकड़े और बुखार के सही कारणों को छिपाने वाले स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए प्रशासन से अनुरोध करेंगे।

Posted By: Jagran