बरेली, जेएनएन । Development of Bareilly : अनलॉक होने के बाद विकास की परियोजनाओं पर प्रशासन बहुत तेजी से निर्माण पूरे कराना चाहता है। बरेली विकास प्राधिकरण की भी कई योजनाएं अधर में लटक गई थी। मंगलवार को कमिश्नर कार्यालय में हुई समीक्षा बैठक में बरेली के कई चौराहों के सुंदरीकरण की टेंडर प्रक्रिया को दस दिनों में पूरा करने के निर्देश दिए हैं। इस दौरान अफसरों ने कई बिंदुओं पर विचार विमर्श भी किया।

चौराहों के सुंदरीकरण का पास किया था प्रस्ताव

पिछली बोर्ड बैठक में सदस्यों ने बीसलपुर तिराहा और डोहरा रोड के चौराहों समेत 16 चौराहों के सुंदरीकरण को लेकर प्रस्ताव पास किया था। लेकिन लॉकडाउन होने क बाद प्रस्ताव पर प्रगति नहीं हुई। तय हुआ था कि झुमका चौराहा की तर्ज पर ही इन चौराहों को भी बरेली की पहचान से भी जोड़ा जाएगा।

कमिश्नर व बीडीए उपाध्यक्ष ने समीक्षा कर दिए निर्देश 

कमिश्नर रणवीर प्रसाद और बीडीए उपाध्यक्ष दिव्या मित्तल ने समीक्षा के दौरान दस दिनों में चौराहों के सौंदर्यीकरण के लिए टेंडर प्रक्रिया पूरी कराने के लिए कहा है। करगैना और रामगंगानगर आवासीय योजना पर भी फैसले इसके अतिरिक्त करगैना आवासीय योजना में छह करोड़ की लागत से बनने वाले नाले का वर्कआर्डर भी जारी करने की बात उठी। इसकी टेंडर प्रक्रिया पूरी हो चुकी है।

लॉकडाउन की वजह से अब तक अटकी थीी टेंडर प्रक्रिया

रामगंगा आवासीय योजना में 45 मीटर की रोड और साइंस पार्क की बाउंड्रीवॉल के भी वर्कऑर्डर इसी पखवाड़े में जारी कर दिए जाएंगे, ताकि उनके निर्माण पूरे कराए जा सके। रामगंगा आवासीय योजना को ज्यादा विकसित करने के लिए कई प्रोजेक्ट बीडीए ने तैयार किए थे। लेकिन लॉकडाउन होने की वजह से टेंडर प्रक्रिया तक अटकी हुई थी।

बरेली विकास प्राधिकरण की लॉकडाउन के दौरान कई प्रोजेक्ट पर काम नहीं हो सके। सभी प्रोजेक्ट की टेंडर प्रक्रिया और वर्क ऑर्डर जारी कराने के निर्देश दिए गए हैं। - रणवीर प्रसाद, कमिश्नर बरेली मंडल

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस