जागरण संवाददाता, बरेली : बरेली-सीतापुर हाईवे पर जाम खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। गुरुवार सुबह लगभग साढ़े तीन बजे हुलासनगरा क्रासिंग के समीप गड्ढों में फंसकर दो ओवरलोड ट्रक खराब हो गए। रम्पुरा कमन तो दूसरी ओर कटरा तक जाम लग गया। दिनभर वाहन रेंगते रहे। वाहन चालक व मुसाफिरों को परेशानी से जूझना पड़ा। देर रात लगभग एक बजे तक जाम के हालात बने हुए थे। हाईवे पर जाम लगा तो चालक छोटे वाहनों को डिवाइडर क्रास कर विपरित दिशा से निकालने लगे। इस दौरान कई छोटी गाड़ियां दुर्घटनाग्रस्त होने से बच गई। वहीं, जाम से बचने के लिए लोग शाहजहांपुर जाने को टिसुआ होते हुए शिवपुरी चौराहा नवादा मोड़ होते हुए जैतीपुर को निकले। ट्रैफिक बढ़ने से उस रोड पर भी जाम के हालात बन गए।

दो ओवरलोड ट्रेलरों ने तोड़ा हाइट गेज, दिल्ली-लखनऊ रेलमार्ग प्रभावित

जासं, बरेली: हुलासनगरा (बिलपुर) रेलवे क्रासिग पर गुरुवार तड़के दो ओवरलोड ट्रेलरों ने हाइट गेज तोड़कर दिल्ली-लखनऊ रेलमार्ग प्रभावित कर दिया। सुबह करीब चार बजे रेलवे सुरक्षा बल ने दोनों ट्रेलर हटवाकर चालकों को गिरफ्तार किया है। बिलपुर के आरपीएफ उप निरीक्षक विकास कुमार ने बताया कि गुरुवार तड़के साढ़े तीन बजे कंट्रोल से संदेश मिला कि हुलासनगरा (बिलपुर) रेलवे क्रासिग पर दो ओवरलोड ट्रेलरों ने हाइट गेज तोड़ दिए। ये हाइट गेज ओवरलोड वाहनों को रोकने के लिए लगाए जाते हैं। ट्रेलर फंसने से 30 मिनट तक क्रासिग बंद नहीं हो सकी। इससे सिग्नल व्यवस्था ठप रही। ऐसे में ट्रेनों को रोककर तथा काशन मेमो देकर गुजारा गया। आरपीएफ निरीक्षक विपिन शिशौदिया ने बताया कि दोनों ट्रेलरों के चालकों को हिरासत में लिया है। ट्रेलरों में मालगाड़ी के कोच लदे थे। किसी तरह ट्रेलर को सुबह चार बजे हटाया गया। इस दौरान चार स्पेशल ट्रेनें और तीन मालगाड़ियों का संचालन प्रभावित हुआ।

इज्जतनगर वर्कशाप लाए जा रहे थे दोनों कोच

दोनों ट्रेलरो में मालगाड़ी के एक-एक कोच लदे थे। इन्हें मरम्मत के लिए इज्जतनगर यांत्रिक कारखाना लाया जा रहा था। घटना के बाद आरपीएफ ने दोनों ट्रेलरों को जंक्शन पर लाकर सीज किया। चालकों की पहचान बदायूं, सहसवान के गांव नडयाल निवासी गुलचमन व कानपुर के शिवराजपुर निवासी छेदीलाल के रूप में हई। आरपीएफ ने दोनों के खिलाफ रेलवे एक्ट में मामला दर्ज किया।

Edited By: Jagran