बरेली, जेएनएन। Bareilly 300 Bed Covid Hospital Incarge Letter : बरेली के 300 बेड कोविड हाॅस्पिटल के प्रभारी ने डा. सतीश चंद्रा ने सीमएओ को जो पत्र लिखा है उसमें उनका दर्द तो छलका है। इसके साथ ही गुस्सा और मजबूरी भी दिखी। सीएमओ को पत्र लिखकर खुद को पद से हटा देने की मांग करने वाले प्रभारी ने कर्मचारियों पर परेशान करने का आरोप लगाया है।इसके साथ ही उन्होंने अस्पताल में होने वाली गतिविधियों का भी जिक्र किया है।

मैं वर्ष 1994 में लोकसेवा आयोग उत्तर प्रदेश से चयनित चिकित्सा अधिकारी के पद पर 05 मई 1995 से अपना कार्य पूर्ण लगन और निष्ठा से कर रहे हूं। मैंने18 नवंबर 2021 से 300 बेड अस्पताल में तैनात किया गया, तब से मैं चिकित्सालय में व्याप्त अव्यवस्थाओं एवं भ्रष्टाचार को समाप्त कर संस्था को बेहतर कार्य करने के लिए मेरे प्रयासरत हूं। इससे भ्रष्टाचारी एवं नकारा कर्मचारी मुझसे परेशान हो गये हैं। ये लोग मानसिक उत्पीड़न करने का मुझ पर आरोप लगवाकर एवं कुछ कर्मचारियों के फर्जी हस्ताक्षर कराकर मेरी छवि को धूमिल करने की कोशिश कर रहे हैं।

उक्त लोग मेरे खिलाफ षड़यंत्र रचते हैं। इससे मुझे अत्यधिक मानसिक पीड़ा एवं उत्पीड़न का सामना करना पड़ रहा है। मेरी उम्र 58 वर्ष है और ब्लड प्रेशर एवं मधुमेह रोग से पीड़ित हूं। इसके इलाज के लिए दवाएं एवं इंसुलिन 25 यूनिट प्रतिदिन लेनी पड़ती है। इसके बावजूद बीते दिनों से मेरा ब्लड प्रेशर और मधुमेह नियंत्रित नहीं है, इसलिए प्रभारी चिकित्सा अधिकारी 300 बेड कोविड चिकित्सालय का प्रभार का उत्तरदायित्व किसी अन्य अधिकारी को दे दें। - डा. सतीश चंद्रा, प्रभारी चिकित्सा अधिकारी, 300 बेड अस्पताल 

Edited By: Ravi Mishra