जेएनएन, बरेली : शहर के एक बैंक मैनेजर को पाकिस्तान के मोबाइल फोन नंबर से बने दो ग्रुपों में जोड़ लिया गया। ग्रुप में उनके बैंक के तमाम अन्य बैंक अधिकारियों को भी जोड़ा गया। पाकिस्तान का नंबर होने और अफवाह फैलने की आशंका के चलते सभी ने वाट्सएप ग्रुप छोड़ दिया।

पंजाब नेशनल बैंक की पीलीभीत बाईपास शाखा में मैनेजर सुभाष गुप्ता ने बताया कि शुक्रवार को वह शहर से बाहर थे। शाम को अचानक उन्होंने मोबाइल चेक किया तो उसमें दो वाट्सएप ग्रुप बने हुए थे, जिनमें उन्हें जोड़ लिया गया था। इन दोनों ग्रुप को खोलकर देखा तो कोई मैसेज नहीं थे। बैंक के ग्रुप से जुड़े तमाम अधिकारी व कर्मचारी उसमें जुड़े हुए थे। ग्रुप के एडमिनिस्ट्रेटर को देखा तो उसका मोबाइल नंबर पाकिस्तान के कोड से शुरू हो रहा था। मामला समझते देर नहीं लगी। आशंका जताई कि शायद यह ग्रुप अफवाह फैलाने के चलते बनाया गया हो। अन्य अधिकारियों से भी बात की। फिर ग्रुप को छोड़ दिया। उन्होंने मामले की सूचना पुलिस को नहीं दी।

 

Posted By: Abhishek Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप