बरेली, जेएनएन। Badaun Suicide Attempt Case : सहकारिता विभाग के निलंबित सचिव राजेंद्र पाल शर्मा के बेटे के विकास भवन पर आत्मदाह की कोशिश करने का मामला शासन तक पहुंचने के बाद कार्रवाई भी शुरू हो गई है। किसान सेवा सहकारी समिति सिठौली की प्रबंध समिति को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। इस प्रकरण में सहकारी निरीक्षक, शाखा प्रबंधक और कनिष्ठ लिपिक को निलंबित कर दिया गया है। जांच-पड़ताल जारी है, इनके अलावा भी जो दोषी मिलेगा उसके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।

विकास भवन में निलंबित सचिव राजेंद्र पाल शर्मा के बेटे विपिन शर्मा द्वारा विभाग भवन परिसर में आत्मदाह करने के मामले में शासन ने सख्त रूख अपनाया है। इस मामले में दोषी आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई तय की जाने लगी है, साथ ही संबंधित दोषियों के खिलाफ मुकदमे की कार्रवाई की जा रही है। शासन के आदेश पर संयुक्त आयुक्त एवं संयुक्त निबंधक सहकारिता बरेली के द्वारा किसान सेवा सहकारी समिति सिठौली को निलंबित कर दिया गया है।

इसके अलावा अपर जिला सहकारी अधिकारी प्रदीप कुमार द्वारा सभापति सोमपाल पुत्र अजब सिंह के खिलाफ सिविल लाइंस थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया है। वहीं, सहकारी निरीक्षक/ सहायक विकास अधिकारी प्रदीप कुमार को भी निलंबित किया गया। इसके अलावा अपर जिला सहकारी अधिकारी मनोज कुमार और कनिष्ठ शाखा प्रबंधक सत्यव्रत जौहरी को निलंबित कर दिया गया है। संयुक्त आयुक्त ने निर्देश पर किसान सेवा सहकारी समिति सिठौली की प्रबंध कमेटी के खिलाफ कार्रवाई पूर्ण नहीं होने तक दो सदस्यीय अंतरिम प्रशासक कमेटी का गठन कर दिया गया है। इस मामले में और भी दोषियों पर कार्रवाई की गाज गिर सकती है।

सचिव के पुत्र के आत्मदाह की कोशिश मामले की जांच कराकर कार्रवाई की गई है। शासन स्तर से तीन लोगों को निलंबित किया गया है। समिति की प्रबंध कमेटी को भी निलंबित कर दिया गया है। इस मामले में जो भी दोषी मिलेगा उसके खिलाफ कार्रवाई होगी। - दीपा रंजन, जिलाधिकारी

Edited By: Ravi Mishra