बरेली जेएनएन। उत्तर प्रदेश के बरेली में चोरी गए वाहन की बरामदगी के लिए दारोगा द्वारा 25 हजार रुपये की रिश्वत मांगने के मामले में आईपीएस अमिताभ ठाकुर की दखल के बाद पुलिस महकमें में हड़कंप मचा हुआ है। आईपीएस अमिताभ ठाकुर ने जहां मामले में सीधे तौर पर बरेली पुलिस को ट्वीट कर गाड़ी बरामद करवाने के निर्देश दिए है। वहीं मामले में पुलिस अफसरों ने जांच कराने के बाद उसकी रिपोर्ट उच्चाधिकारियों को भेजने की बात कहीं है।

आइपीएस अमिताभ ठाकुर ने यह ट्वीट इज्जतनगर इलाके से वाहन नंबर यूपी-25 एडी-0788 चोरी होने के मामले में किया है। दरअसल वाहन चोरी होने के मामले की रिपोर्ट थाने में दर्ज कराई गई है। जिस पर उन्हे पूछताछ के लिए पहले थाने बुलाया गया। इसके बाद पुलिस पीडित को अपने साथ घटनास्थल ले गई। घटनास्थल को देखने के बाद उन्होंने पुलिस पर पैसा मांगने का आरोप लगाया है। पीडित का आरोप है कि एसआई नाजिर अली ने उनसे 25 हजार रुपये की मांग की है।

बहेडी में रहने वाले एक व्यक्ति का यह वाहन तीन जून की रात को मिनी बाइपास के पास स्थित एक निजी अस्पताल के बाहर से चोरी हुआ था। जिसकी रिपोर्ट उसने इज्जतनगर थाने में दर्ज कराई थी। जिसकी विवेचना आरोपित दारोगा नाजिर अली को सौंपी गई है। आईपीएस अमिताभ ठाकुर के ट्वीट के बाद पुलिस अधिकारी भी मामले की जांच करवा रहे है। 

Posted By: Ravi Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस