जागरण संवाददाता, बरेली : प्रधान डाकघर के घोटालेबाज डिप्टी पोस्ट मास्टर वाईके शर्मा ने 649 चेक काटे थे, जो संदिग्ध मिले हैं। अब डाक विभाग इन संदिग्ध चेक धारकों की कुंडली खंगालने में जुट गया है। यह पता लगाया जा रहा है कि कितने चेक घोटाले में शामिल है। वहीं, डाक विभाग घोटाले की रकम करीब ढ़ाई करोड़ के पार पहुंचने का अनुमान लगा रहा है।

प्रधान डाकघर में घोटाला सामने आने के करीब एक माह बाद जांच टीम इन चेकों तक पहुंच सकी है। अफसरों का कहना है, निरस्त चेक का रिकार्ड व्यवस्थित न होने के कारण आरोपित डिप्टी पोस्ट मास्टर का गुनाह सामने नहीं आ सका। आरोपित के खजाने का प्रभार संभालने के दौरान काटे गए सभी चेकों की पड़ताल की जा रही है। ऐसे में 649 संदिग्ध चेक टीम के हाथ लगे। अब इन संदिग्ध चेकों में से कितने सही है और कितने घोटाले में शामिल है इसकी जानकारी की जा रही है। नोटिस देकर इन चेक धारकों को बयान दर्ज कराने के लिए बुलाया जा रहा है।

जांच में सहयोग नहीं करने पर होगी एफआइआर

अधिकारियों की माने तो यदि चेक धारकों ने जांच में सहयोग नहीं किया तो उन्हें भी घोटाले में शामिल माना जाएगा। ऐसे संदिग्ध चेक धारकों पर एफआइआर दर्ज कराई जाएगी।

डिप्टी पोस्टर मास्टर अंजनी अग्रवाल भी सस्पेंड

घोटाले में एक के बाद एक कर्मचारियों पर गाज गिराई जा रही है। डिप्टी पोस्ट मास्टर अंजनी अग्रवाल को भी रिकार्ड दुरस्त नहीं रखने के आरोप में बुधवार को निलंबित कर दिया गया। घोटाला सामने आने के बाद अब तक प्रधान डाकघर में आठ कर्मचारी निलंबित हो चुके हैं।

यह था पूरा मामला

प्रधान डाकघर के डिप्टी पोस्ट मास्टर वाईके शर्मा (खजाना) ने अपने पुत्र व अन्य लोगों के नाम फर्जी चेक काटकर घोटाला किया। मामला प्रकाश में आने पर आरोपित ने करीब साढे़ 12 लाख की रकम जमा भी की थी। डाक विभाग की ओर से एफआइआर दर्ज कराने पर पुलिस ने आरोपित को जेल भेज दिया था। उनके परिवार के सदस्यों के ट्रेस हो चुके खाते व संपत्ति भी सील की जा चुकी है। आरोपित पर करोड़ों के घोटाले की डाक विभाग पुष्टि कर चुका है।

-------

आरोपित डिप्टी पोस्ट मास्टर द्वारा काटे गए 649 चेक संदिग्ध मिले हैं। यदि इन चेक धारकों ने जांच में सत्यता साबित नहीं कर पाए तो उन पर भी एफआइआर दर्ज कराई जाएगी। बुधवार को लापरवाही के आरोप में डिप्टी पोस्ट मास्टर अंजनी अग्रवाल भी निलंबित की गई हैं।

-रामेश्वर दयाल, प्रवर अघीक्षक डाक

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप