जेएनएन, बरेली। 50 लाख की मांग पूरी न होने पर ससुराल वालों ने विवाहिता को घर से निकाल दिया। विवाहिता का कहना है कि पति को बिजनेस कराने के लिए ससुराल वाले 50 लाख रुपये घर से लाने की मांग कर रहे हैं। रुपये नहीं मिले तो उसे घर से निकाल दिया। विवाहिता ने प्रेमनगर थाने में ससुराल वालों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है।

प्रेमनगर के एकता नगर निवासी हरिवंश कुमार अरोरा ने बेटी हर्षिता की शादी 31 अक्टूबर 2017 को मुरादाबाद बुद्ध विहार आवास विकास कालोनी के पारस के साथ की थी। हर्षिता का कहना है कि शादी में पिता ने करीब 38 लाख रुपए खर्च किए थे। जब वह ससुराल गई तो उसके पति पारस साहनी, ससुर योगेन्द्र मोहन साहनी, सास ऊषा और देवर दीपांस दहेज की मांग करने लगे। ससुराल वालों का कहना था कि पारस बिजनेस करेगा इसके लिए 50 लाख रुपये ससुराल से लाकर दो। मांग पूरी नहीं हुई तो हर्षिता के साथ मारपीट की जाने लगी। आरोप है ससुराल वालों ने पांच जनवरी को उसक जेवर रख लिए और घर से निकाल दिया। रिश्तेदारों ने 19 अप्रैल को फैसला कराने के बाद उसे दोबारा ससुराल भेज दिया। आरोप है कि इसके बाद ससुराल वाले हर्षिता को आत्महत्या के लिए उकसाने लगे और मारपीट करने लगे। बीती चार अगस्त को उसे दोबारा घर से निकाल दिया गया। हर्षिता ने प्रेमनगर थाने में शिकायत की लेकिन पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज नहीं की। एसएसपी से शिकायत की जिसके बाद प्रेमनगर थाने में पति, सास, ससुर और देवर के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप