बाराबंकी : विधानसभा चुनाव की तैयारियां शुरू हो गई हैं। जिले का चुनाव बिहार के चंपारण से लाई गई ईवीएम से होगा। रविवार को बिहार से ईवीएम लाने का कार्य पूरा हो गया। करीब दस हजार ईवीएम और वीवीपैट से विधानसभा का चुनाव होगा।

बिहार के पूर्वी चंपारण से वीवीपैट सहित लगभग दस हजार ईवीएम लाने का जिम्मा जिलाधिकारी डा. आदर्श सिंह ने बंदोबस्त चकबंदी अधिकारी अनिल कुमार पांडेय को दिया था। चकबंदी अधिकारी की टीम बिहार पहुंची और वहां से नौ कंटेनर से ईवीएम और वीवीपैट लाए गए। रविवार को यह कार्य पूरा कर लिया गया।

23 लाख वोटर करेंगे मतदान : जिले में छह विधानसभा क्षेत्र हैं। इसमें बाराबंकी, जैदपुर, दरियाबाद, कुर्सी, हैदरगढ़ और रामनगर शामिल हैं। इसमें लगभग 22 लाख वोटर हैं, हालांकि मतदाता पुनरीक्षण चलने के बाद मतदाताओं की संख्या और बढ़ेगी, लगभग 23 लाख वोटर होने की उम्मीद है।

इनसेट : सत्यापन के लिए लगेगी वीवीपैट

चुनाव आयोग पिछले विधानसभा चुनाव 2017 में पायलट प्रोजेक्ट के तहत जिलों के दो विधानसभा क्षेत्र में वीवीपैट लगाए गए थे। इसमें बाराबंकी के 381 व जैदपुर के 394 मतदान स्थलों पर वीवीपैट (वोटर वेरीफाइड पेपर आडिट ट्रेल) मशीन लगाई गई थी। इस बार जिले के छह विधानसभा क्षेत्रों में वीवीपैट लगेगी। ईवीएम से मतदान के दौरान वीवीपैट को कनेक्ट कर दिया जाएगा। जैसे ही मतदाता वोट डालेगा, वैसे ही वीवीपैट से एक पर्ची दिखेगी। यह पर्ची शीशे के अंदर ही रहेगी, बस मतदाता संतुष्टि के लिए देख सकता है कि उसने किस पार्टी को वोट दिया है।

इनसेट :

फैक्ट फाइल

ईवीएम-4970

कंट्रोल यूनिट-3970

वीवीपैट-3110

इनसेट : मतदान स्थलों पर एक नजर

विधानसभा क्षेत्र -मतदान केंद्र -बूथ

बाराबंकी -263 -482

जैदपुर -285 -482

दरियाबाद -285 -501

कुर्सी -304 -488

रामनगर -292 -432

हैदरगढ़ -260 -433

आंशिक रुदौली - 14 -23

कुल - 2841 -1703 ईवीएम के लाने का कार्य पूरा कर लिया गया है। रविवार को शेष बची ईवीएम भी लाई गई है। अब ईवीएम का सत्यापन होगा।

अनिल पांडेय, प्रभारी ईवीएम/बंदोबस्त चकबंदी अधिकारी, बाराबंकी।

Edited By: Jagran