Move to Jagran APP

UP News : विदेश में रोजगार और रेलवे की नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी

नगर पंचायत निवासी चंद्र प्रकाश यादव प्राथमिक विद्यालय में अध्यापक हैं। उनके वाट्सएप पर 25 सितंबर 2023 को अज्ञात व्यक्ति ने होटल/रेस्टोरेंट की फाइव स्टार रेटिंग के बदले कमीशन देने का मैसेज भेजा। फिर टेलीग्राम ग्रुप पर जोड़कर प्रीपेड टास्क दिया गया पहले तो उसने कमीशन भेजकर लालच दिया फिर 88 हजार रुपये ठग लिए। पुलिस जांच कर रही है।

By Nirankar Jaiswal Edited By: Mohammed Ammar Wed, 19 Jun 2024 01:32 AM (IST)
विदेश में रोजगार और रेलवे की नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी

संवादसूत्र, जागरण. बाराबंकी : विदेश में रोजगार दिलाने के नाम पर दो लोगों से ठगी कर ली गई। वहीं, रेलवे में नौकरी दिलाने के झांसा देकर 27 लाख रुपये ठग लिए गए। एक शिक्षक भी साइबर फ्राड का शिकार हाे गए। दो प्रकरण में पुलिस ने मुकदमा लिखा है, जबकि रेलवे में नौकरी दिलाने वाले मुख्य आरोपित को गिरफ्तार कर जेल भेजा है।

दरियाबाद : थाना अंतर्गत कोटवा मजरे श्यामनगर निवासी सुखराम ने बताया कि भाई प्रेमचंद्र को विदेश भेजने के लिए टिकैतनगर थाने के पूरे फत्तेखां मजरे उदईमऊ शहीर से मुलाकात की थी। शहीर ने सऊदी अरब भेजने के लिए 90 हजार रुपये मांगे। सुखराम ने शहीर को रुपये नकद व आनलाइन दिए।

एक वर्ष बीत जाने पर नौकरी नहीं मिल सकी। सुखराम का आरोप है कि रुपये वापस मांगने पर शहीर मारपीट और अभद्रता पर उतारू हो जाता है। वहीं, कोटवा के रामयस के मुताबिक उन्होंने अपने पुत्र वीरेंद्र को विदेश भेजने के लिए शहीर को 90 हजार रुपये दिए थे। अब रुपये मांगने पर विवाद करता है। टिकैतनगर थाना में शिकायत की, लेकिन कार्रवाई नहीं हुई। रुपये के लेनदेन का वीडियो इंटरनेट पर प्रसारित है। सीओ जटाशंकर मिश्रा ने बताया कि प्रकरण संज्ञान में नहीं है।

शिक्षक साइबर फ्राड का शिकार

रामसनेहीघाट : नगर पंचायत निवासी चंद्र प्रकाश यादव प्राथमिक विद्यालय में अध्यापक हैं। उनके वाट्सएप पर 25 सितंबर 2023 को अज्ञात व्यक्ति ने होटल/रेस्टोरेंट की फाइव स्टार रेटिंग के बदले कमीशन देने का मैसेज भेजा। फिर टेलीग्राम ग्रुप पर जोड़कर प्रीपेड टास्क दिया गया, पहले तो उसने कमीशन भेजकर लालच दिया, फिर 88 हजार रुपये ठग लिए। शंका होने पर अध्यापक ने इसकी शिकायत साइबर सेल से की। प्रभारी निरीक्षक ओपी तिवारी ने बताया कि मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है।

जालसाज गिरफ्तार, जेल रवाना

त्रिवेदीगंज : लोनीकटरा पुलिस ने रेलवे में नौकरी लगवाने के मामलों में लोगों से 27 लाख रुपये की ठगी करने के आरोपित को गिरफ्तार किया है। ठगी के गिरोह का सरगना लोनीकटरा के मदनापुर निवासी वासुदेव सिंह ने 10 अप्रैल को विपिन कुमार वर्मा निवासी जैदपुर थाना सम्मनपुर जिला अम्बेडकरनगर से रेलवे में नौकरी लगवाने के नाम पर 15 लाख रुपये और 13 मई को बच्चाराम वर्मा निवासी बघौरा रतन थाना सफदरगंज से 12 लाख रुपये ठग लिए थे। पीड़ितों ने मुकदमा दर्ज कराया था। एसओ अंकित त्रिपाठी ने बताया कि वासुदेव सिंह को पकड़कर जेल भेजा गया है। अन्य की तलाश जारी है।