सुबह के करीब 11 बजकर 40 मिनट हुए हैं। प्लेटफार्म नंबर दो पर करीब एक सैकड़ा से अधिक यात्री मौजूद हैं। यह सभी लोग अपनी अपनी ट्रेन के इंतजार में हैं। इनमें किसी को रसौली, दरियाबाद, पटरंगा, बड़ागांव या फैजाबाद जाना है तो किसी को बनारस और दूसरी ट्रेन से देवीपाटन, मुरादाबाद तक का सफर तय करना है। घड़ी की सुइयां सवा बारह पार करने वाली हैं, लेकिन लखनऊ-बनारस पैसेंजर का अब तक ट्रेन के संबंध में कोई एनांउसमेंट नहीं हुआ है। प्लेटफार्म पर पहुंचते ही कैमरामैन को देख लोगों का पहला सवाल हुआ देखिए अब तक ट्रेन नहीं आई है। आप इसकी भी खबर करिये। करीब एक घंटे बाद दोबारा प्लेटफार्म पर पहुंचने पर लोग ट्रेन की चिता छोड़ चर्चा में मशगूल दिखे। कोई मोदी के ही जीतने का दम भर रहा है तो कोई कांग्रेस के घोषणा पत्र को ही देश विरोधी बताता दिखा। यहां लोग भले ही गांव और छोटे कस्बों के रहे हों लेकिन चर्चा में राष्ट्रीय स्तर के मुद्दे ही हैं। सेना की एयर स्ट्राइक, चौकीदार, महाकुंभ के अलावा कांग्रेस के घोषणा पत्र के देशद्रोह के कानून को समाप्त करने, बाइस लाख रोजगार देने और खातों में 72 हजार रुपये भेजने के वादे आदि पर खूब बतकही हुई। सियासत की सरगर्मी पर प्रस्तुत है छायाकार नवनीत तिवारी के साथ जगदीप शुक्ल की लाइव रिपोर्ट..

------------------------

स्टेशन लाइव

हमरे गांव मा मोदी मैजिक चलिहै

स्टेशन परिसर में देवी पाटन के दर्शन को जाने के लिए ट्रेन का हरख ब्लॉक के पनिहल निवासी 70 से 45 वर्ष आयु वर्ग के छह लोग इंतजार कर रहे थे। उनका दर्द भी सियासत के रंग में रंगा था। जगन्नाथ बोले कि मोदी जी ने बुलेट ट्रेन चलाने का वादा किया था पर ट्रेन में सीट आज भी नहीं मिलती। लेकिन, सुना है देवीपाटन मंदिर मा नीक व्यवस्था कराई गय है। उनके समर्थन में देशराज सिंह बोले कुंभव मा अबकी व्यवस्था धांसू रहय। अब तव प्रधानमंत्री जी खुद का चौकीदार तक बताय दिहिन हंय। सब ठीक होई। जगन्नाथ फिर बोल पड़े सीट मिलै चाहै न मिले। मोदी मैजिक हमरे गांव में इस बार भी चहिलै। उन्होंने कांग्रेस के खाते में 72 हजार भेजने के वादे पर कहा कर्जमाफी मा तव 24 रुपया माफ भवा रहा। ई सब वादा हंय इनकय का। मतिन खराब हय का..

कुछ दूर पर बैठे अयोध्या जिले के पटरंगा निवासी हौसला प्रसाद लपट कर आ गए और बोले सुना है देशद्रोह कानून खत्म करय का कांग्रेस घोषणा पत्र में शामिल करसि हय, लागति मतिन खराब है। झलिहा गांव के सुशील कुमार ने उनकी बात काटते हुए कहा अबकी मोदी जी छप्पन इंची सीना देखायेन दिहिन.वैसे देश बदि यहे बढि़या रहियंय। रामू ने कहा अबकी तव मोदीन जितिहयं देख लेहेव..चलौ दादा ट्रेन आइ रही है। शौचालय निर्माण में मिली रोजी-रोटी

स्टेशन के प्लेट फार्म नंबर दो पर मुरादाबाद के राजगीर मिस्त्री इमरान के साथ इसरत अली, गुफरान, इमरान आदि ट्रेन का इंतजार कर रहे हैं। इमरान आपस में चर्चा करते हुए बोले-बाराबंकी जिले में करीब आठ शौचालय हम लोगों ने बनाए हैं। अब गांव में शादी है इसलिए जा रहे हैं। मइसरत ने कहा कि कुछ भी हो काम तव यहे सरकार मा मिला हय। दीपावली से हैं यहां के मनेरा, खालेपुरवा, सरायमीर आदि गांवों में शौचालय बनाए हैं। जिनको उज्ज्वला का लाभ मिला वह सिलेंडर-सिलेंडर चिल्ला रहा है। प्रधानमंत्री आवास पाने वाले भी खुश हैं। कांग्रेस के 22 लाख के रोजगार के वादे पर गुफरान बोला हमें शौचालय बनाने में काम मिला यह जानते हैं। बाकी सब नेतागीरी है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप