बाराबंकी : अस्वाभाविक मौत पर शव का पोस्टमार्टम पुलिस कराती है। पोस्टमार्टम के लिए पुलिस शव का पंचनामा करती है जिसमें मृतक के पांच परिचित अथवा रिश्तेदारों का विवरण सहित शव पर चोट आदि का विवरण होता है। अक्सर पुलिस के पंचनामा प्रक्रिया में देरी के कारण शव का समय से पोस्टमार्टम नहीं हो पाता है। इस समस्या का संज्ञान लेते हुए पुलिस अधीक्षक डॉ. अरविद चतुर्वेदी ने सभी थानाध्यक्षों का आदेश जारी किया है। आदेश में यह भी बताया गया है कि पोस्टमार्टम के लिए सीएमओ स्तर से एक डॉक्टर की डयूटी सुबह दस से शाम छह बजे तक लगाई जा रही है। पूर्व में दो बजे बाद ड्यूटी लगती थी, जिसके कारण सुबह पंचनामा की प्रति नहीं आती थी जिससे शव के पीएम में विलंब होता था। डॉ. की डयूटी लगने के बाद इस समस्या से पीड़ित लोगों को राहत दिलाने के लिए आदेश जारी किया है। जिसमें समय से पीएम हो सके। इसके लिए थानाध्यक्षों को इस आदेश के बारे में सभी पुलिसकर्मियों को गोष्ठी कर

सूचना देने के भी निर्देश दिए हैं।

---------------

संदिग्ध परिस्थितियों में व्यक्ति की मौत

बाराबंकी : घर में अकेले एक व्यक्ति की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। व्यक्ति का शव घर में चारपाई पर पड़ा मिला। पुलिस ने शव को पीएम के लिए भेजा है और प्रथम ²ष्टया जान देने का मामला बताया है।

जैदपुर के अहमदपुर कस्बा के विश्वनाथ 48 का शव घर में चारपाई पर पड़ा पाया गया। मृतक की पत्नी शीला ने बताया कि वह गांव में एक रिश्तेदार के घर बच्चों के साथ गई थीं। पुत्री शिवानी जब घर पहुंची तो पिता का शव चारपाई पर पड़े होने की जानकारी हुई। मृतक विश्वनाथ ठेला पर मूंगफली बेचकर जीवन यापन करता था। सूचना पर पहुंची जैदपुर पुलिस ने घटना स्थल का जायजा लिया और शव को पीएम के लिए भेजा। जैदपुर प्रभारी निरीक्षक संदीप कुमार राय ने बताया कि मृतक के गले में निशान मिलने से प्रथम ²ष्टया मामला आत्महत्या का लगता है। शव की पीएम रिपोर्ट से मौत का कारण स्पष्ट होगा, फिलहाल परिवार की ओर से कोई आरोप नहीं लगाया गया है।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप