जागरण टीम, बाराबंकी : कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए जिले में की गई व्यवस्थाओं का जायजा बुधवार को नोडल अधिकारी व निदेशक बाल विकास एवं पुष्टाहार डा. सारिका मोहन ने लिया। उन्होंने जिला महिला चिकित्सालय में कोविड से पीड़ित महिलाओं व बच्चों को भर्ती कर इलाज व जांच की व्यवस्था के साथ ही आक्सीजन प्लांट भी देखा। चिकित्सालय व रेलवे स्टेशन के रैन बसेरा को भी देखा। रैन बसेरा में कोविड प्रोटोकाल के अनुरूप स्वच्छता के निर्देश दिए।

कलेक्ट्रेट के लोक सभागार में सीडीओ एकता सिंह सहित अन्य अधिकारियों के साथ बैठक में निगरानी समितियों को सक्रिय करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि निगरानी समितियों की सक्रियता संक्रमण को रोकने में काफी सहायक सिद्ध होगी।

उन्होंने निगरानी समितियों के माध्यम से 18 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्तियों को कोरोना रोधी टीका की दोनों डोज लगवाने के निर्देश दिए। दवाई किट भी निगरानी समितियों के माध्यम से वितरित कराने को कहा। उन्होंने निजी चिकित्सालयों में भी निर्धारित दर पर ही मरीजों का इलाज के निर्देश दिए।

सीएमओ डा. रामजी वर्मा ने बताया कि कोविड कंट्रोल सेंटर सेंटर 05248-224849, 229926, 18001804133 व 9569528403 (वाट्सएप) संचालित है। बैठक में डीडीओ अजय पांडेय, एसीएमओ डा. डीके श्रीवास्तव, जिला कार्यक्रम अधिकारी प्रकाश कुमार, प्रति रक्षण अधिकारी डा. राजीव कुमार सहित अन्य मौजूद रहे।

इनसेट-

100 और मिले कोरोना पाजिटिव

बाराबंकी : कोरोना संक्रमण की जांच में बुधवार को 100 लोगों की रिपोर्ट पाजिटिव पाई गई। ऐसे में सक्रिय केस 534 हो गए हैं। बुधवार को 3411 नमूने जांच के लिए और लिए गए। बड़ागांव सीएचसी इलाके के मसौली में दो, बांसभारी में एक सहित छह केस पाए गए। सभी को होम आइसोलेट किया गया है। कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बावजूद लोग चेत नहीं रहे हैं। बाजार में खरीदारी करने वालों की भीड़ उमड़ रही है। दुकान और खरीदार दोनों ही कोविड नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं। मास्क व शारीरिक दूरी का कहीं भी पालन होता नहीं दिख रहा है।

Edited By: Jagran