मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

बाराबंकी: हिदू नव संवत्सर चैत्र शुक्ल पक्ष प्रतिपदा के साथ शनिवार को चैत्र नवरात्र शुरू होगा। अंतिम दिन दुर्गा मंदिरों को सजाने संवारने का कार्य श्रद्धालुओं की ओर से पूरा करा लिया गया। मां के नौ स्वरूपों की भक्त विधि विधान से पूजन अर्चन करेंगे।

शहर के बड़ी देवी मंदिर, मुड़कटी देवी मंदिर, लखपेड़ाबाग स्थित दुर्गा मंदिर, संतोषी माता मंदिर, श्री नव दुर्गा माता मंदिर, अन्नपूर्णा माता मंदिर, ज्वाला देवी मंदिर, सैलानी माता मंदिर सहित अन्य दुर्गा मंदिरों में नवरात्र पर्व को लेकर सुबह से ही भारी भीड़ श्रद्धालुओं की उमड़ेगी। फल फूल व मेवा से माता के श्रृंगार की तैयारी की गई है। शहर के विश्राम सदन धर्मशाला के पुजारी पं. राजेश शास्त्री का कहना है कि नवरात्र के पहले दिन कलश स्थापना के लिए सुबह छह बजे से लेकर सुबह नौ बजे तक शुभ मुहूर्त है। इसके बाद 11 से लेकर दोपहर 12 बजे तक कलश स्थापना का मुहूर्त है। नवरात्र पर्व पर नौ दिन व्रत रखने पर देवी कृपा भक्तों पर रहती है।

व्रत सामग्री खरीदने में जुटे श्रद्धालु: शुक्रवार को शहर व ग्रामीण क्षेत्र में श्रद्धालु व्रत सामग्री खरीदने के लिए लगे रहे। दुकानों में भीड़ रही। कलश स्थापना से संबंधित पूजन सामग्री भी श्रद्धालुओं ने खरीदी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप