Move to Jagran APP

UP News: साली का अपहरण कर जंगल में फेंक द‍िया था शव, कोर्ट ने जीजा को सुनाई आजीवन कारावास की सजा

यूपी के बाराबंकी में साली का अपहरण कर उसकी हत्या करने के एक मामले में कोर्ट ने जीजा को आजीवन कारावास व 35 हजार रुपये अर्थदंड की सजा सुनाई। मामला चार साल पुराना है। सहायक जिला शासकीय अधिवक्ता रमाकांत द्विवेदी ने बताया कि आवास विकास कालोनी निवासी तनु यादव कक्षा 11 की छात्रा थी ज‍िसकी अपहरण के बाद हत्‍या कर दी गई थी।

By Anand Tripathi Edited By: Vinay Saxena Wed, 12 Jun 2024 09:04 AM (IST)
साल की हत्‍या में जीजा को आजीवन कारावास की सजा।- सांकेत‍िक तस्‍वीर

संवाद सूत्र, बाराबंकी। अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश अनिल कुमार शुक्ल ने साली का अपहरण कर उसकी हत्या करने के एक मामले में जीजा को आजीवन कारावास व 35 हजार रुपये अर्थदंड की सजा सुनाई।

सहायक जिला शासकीय अधिवक्ता रमाकांत द्विवेदी ने बताया कि आवास विकास कालोनी निवासी तनु यादव कक्षा 11 की छात्रा थी। 21 सितंबर 2020 को सुबह लगभग 10:30 बजे वह सहेली के साथ स्कूल जाने के लिए निकली थी। वह टैक्सी से स्कूल के गेट पर उतर गई, जबकि सहेली किसी काम से आगे चली गई।

शाम को रोज की तरह छात्रा के घर न आने पर परिजन स्कूल पता करने गए, तब स्कूल के सीसीटीवी फुटेज में तनु टैक्सी से उतरकर सहेलियों से बात करते हुए दिखी, लेकिन उसके बाद कुछ पता नहीं चला। घरवालों ने बहनोई लवकुश को भी तनु को ढूंढने के लिए बुलाया था, लेकिन वह नहीं आया। इससे घरवालों को उस शक हुआ।

पुल‍िस की पूछताछ में कबूला था जुर्म   

पुलिस के सख्ती से पूछताछ करने पर जीजा लवकुश यादव ने बताया कि उसने तनु की हत्या कर चकसार जंगल में फेंक दिया है। पुलिस ने उसकी निशानदेही पर शव थाना सतरिख के चकसार जंगल से बरामद किया था। गवाहों के बयान व दोनों पक्षों की बहस सुनने के बाद जज अनिल कुमार शुक्ल ने अभियुक्त को अपहरण कर हत्या करने और साक्ष्य छिपाने पर आईपीसी की विभिन्न धाराओं में दोषी पाते हुए सजा सुनाई है।