बाराबंकी : नगर कोतवाली क्षेत्र की शांति बिहार कालोनी में नकली खाद फैक्ट्री संचालित करने का मुख्य आरोपी कोटवासड़क निवासी दिव्यांशु गुप्ता पुलिस की पकड़ से दूर है। इसको लेकर पुलिस कार्यशैली पर सवाल उठने लगे हैं।

फैक्ट्री संचालक की शीघ्र गिरफ्तारी की आवश्यकता इसलिए ज्यादा महसूस की जा रही है क्योंकि जबतक दिव्याशु गुप्ता की गिरफ्तारी नहीं होती है तब तक उन दुकानदारों का पता नहीं चल सकेगा जिनकी दुकानों पर नकली खाद की आपूर्ति होती थी।

एसडीएम सुशील प्रताप ¨सह ने 12 अक्टूबर को सतरिख क्षेत्र के नेवली रतन बाजार स्थित शिवम खाद भंडार पर छापा मारकर 50 बोरी नकली खाद बरामद करने के बाद नकली खाद फैक्ट्री तक पहुंचे थे मगर नकली फैक्ट्री में कोई भी नहीं मिला था। फैक्ट्री से डायरी व रजिस्टर मिले थे जिसमें श्रमिकों के नाम लिखे थे। एसडीएम का भी मानना है कि दिव्यांशु की गिरफ्तारी से नकली खाद बेचने वाले दुकानदारों का पता चल जाएगा और उनके कब्जे से नकली खाद भी बरामद की जा सकती है।

--------

''नकली खाद फैक्ट्री संचालन के आरोपी दिव्यांशु गुप्ता व उसके सहयोगियों की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं। शीघ्र ही आरोपी पकड़े जाएंगे।''

-अनिल कुमार ¨सह एसपी, बाराबंकी

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस