बाराबंकी : मसौली के प्रभारी सहायक विकास अधिकारी पर फर्जी तरीके से 12 सफाई कर्मियों का तबादला करने का आरोप है। अब इस मामले में मुख्य विकास अधिकारी ने जांच कमेटी गठित कर दी है। कमेटी के अध्यक्ष जिला विकास अधिकारी हैं। साथ ही निर्देश है कि यदि ट्रांसफर-पोस्टिग में खेल हुआ तो प्रभारी एडीओ पर मुकदमा दर्ज कराया जाए।

विकास खंड मसौली के ग्राम पंचायत अधिकारी कृष्ण कुमार सिंह ने बिना उच्चधिकारियों को बताए ही 12 सफाई कर्मियों का तबादला कर दिया। इस मामले में पैसे लेकर ट्रांसफर करने का भी आरोप है। अब सीडीओ मेधा रूपम ने प्रभारी एडीओ पंचायत की जांच कमेटी गठित कर दी है। इसकी जांच जिला विकास अधिकारी केके सिंह करेंगे। उन्होंने डीपीआरओ से पत्रावलियां तलब की है और अब एडीओ प्रभारी के बयान दर्ज किए जाएंगे। साथ ही सफाई कर्मचारियों के भी बयान दर्ज करने हैं। सीडीओ मेधा रूपम ने बताया कि जांच कमेटी गठित कर दी गई है, इस मामले में सख्त कार्रवाई की जाएगी। इनसेट : रद होगा 12 सफाई कर्मियों का फर्जी तबादला

सफाई कर्मियों के तबादले को रद करने का निर्देश सीडीओ ने दिया है। मसौली के प्रभारी एडीओ ने मसौली के रहरामऊ में तैनात राम प्रकाश को दादरा, रवि प्रकाश को दादरा से राहरामऊ तबादला किया था। राकेश कुमार को नैनामऊ से नेवलाकरसंडा, धीरज कुमार को नेवलाकरसंडा से नैनामऊ, अरविद कुमार को चंदवारा से टेरासानी, लालजी को रसौली से बुधवारा, धर्मेंद्र कुमार को बड़ागांव से सदरुद्दीनपुर, सुनील कुमार को करपिया से राजस्व ग्राम करपिया, राजू को उधौली से रसूलपुर भेजा था। राम मिलन को रसूलपुर से सेमरी, मंगल प्रसाद को मदारपुर से चंदवारा ग्राम पंचायत में तैनात कर दिया गया था।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस