जागरण संवाददाता, बांदा : गेहूं खरीद के लिए किसानों को एक और मौका मिला है। शासन ने एक सप्ताह का समय बढ़ाते हुए इसे 22 जून कर दिया है। क्रय केंद्रों में जो लोग गेहूं लिए तौल का इंतजार कर रहे हैं उनके साथ अन्य कृषकों का गेहूं खरीदा जाएगा। अब तक 66 हजार मीट्रिक टन गेहूं की खरीद हो चुकी है।

जिले में 65 गेहूं क्रय केंद्र संचालित है। इन्हें एक अप्रैल से शुरू किया गया था। 15 जून तक गेहूं क्रय की अवधि तय थी। लेकिन समय पूरा होने के बाद भी कई केंद्रों में काफी संख्या में किसान ट्रैक्टर में गेहूं लादे अपनी बारी का इंतजार कर रहे थे। लिहाजा ऐसे में शासन ने गेहूं खरीद का समय अब 22 जून कर दिया है। जिला विपणन अधिकारी गोविद उपाध्याय ने बताया कि एक सप्ताह तक तिथि बढ़ा दी गई है। लिहाजा सभी किसानों का गेहूं खरीदा जाएगा। बारी-बारी से तौल होगी। जो किसान केंद्रों पर गेहूं लिए इंतजार कर रहे हैं। प्राथमिकता के आधार पर पहले उनकी तौल होगी। मौका सभी को मिलेगा। जिले में अब तक 65 हजार 981 मीट्रिक टन गेहूं की खरीद 16 हजार 308 किसानों से की गई है।

चित्रकूट में 37 केंद्रों के कांटे लाक, सिर्फ दो में हुई गेहूं खरीद : सरकार ने गेहूं खरीद की समय सीमा भले ही 22 जून तक बढ़ा दी है लेकिन पहले दिन तमाम किसानों को कोई लाभ नहीं मिले। जिले में खोले गए 39 केंद्रों में 37 के कांटे लाक रहे। सिर्फ दो केंद्रों में ही खरीद हुई। अधिकारियों के मुताबिक शासन स्तर से कांटे लाक है सिर्फ दो केंद्र संचालित है। हालांकि जिलाधिकारी ने अन्य केंद्रों के भी लाक खोलने को पत्र लिखा है।

भारतीय किसान यूनियन के जिला मीडिया प्रभारी देवेंद्र सिंह ने बताया कि मुख्यमंत्री की घोषणा के बावजूद गेहूं की खरीद नहीं हो रही है। किसान इधर से उधर गेहूं लेकर भटक रहे हैं। जबकि केंद्रों के कांटे लाक हैं। केंद्र प्रभारियों का दो टूक में जवाब है कि अभी तक कोई लिखित आदेश नहीं मिला है। गेहूं खरीद की समय अवधि बढ़ने से क्या फायदा है। एक दिन विभाग की उदासीनता के कारण बर्बाद हो गया है। भारतीय किसान यूनियन मांग करता है कि अविलंब सभी केंद्रों के कांटे खोले जाए। जबकि डिप्टी आरएमओ संजय श्रीवास्तव ने बताया कि जिले में मात्र गल्ला मंडी कर्वी में दो कांटे चल रहे हैं इसके अलावा जिले के समस्त केंद्रों कांटे अभी ऊपर से बंद हैं। जिलाधिकारी को किसानों की चिता है। उन्होंने बंद 37 केंद्र के लाक खोलने के लिए शासन को पत्र लिखा है। संभव है एक दो दिनों खुल जाएंगे।

Edited By: Jagran