जागरण संवाददाता, बांदा : यूपी बोर्ड परीक्षा मंगलवार से कड़ी सुरक्षा के बीच शुरू हुईं। पहले दिन ही आंतरिक सचल दल ने पैलानी में एक छात्रा को नकल करते पकड़ लिया। हाईस्कूल में 1556 और इंटर में 784 परीक्षार्थी पेपर देने नहीं पहुंच सके। सुबह पूरी तैयारी के साथ परीक्षार्थी मंदिरों में मत्था टेककर परीक्षा केंद्र पहुंचे। गेट में ही उनकी सघन तलाशी ली गई। कंट्रोल रूम से कर्मचारी वायस रिकार्ड के जरिए परीक्षा की पल-पल की जानकारी लेते रहे।

यूपी बोर्ड परीक्षा मंगलवार को पहले दिन शांति व सुरक्षा के बीच हुईं। पहली पाली में सुबह आठ से 11.15 बजे तक पेपर हुए। हाईस्कूल हिदी विषय के पेपर में कुल 24169 परीक्षार्थी पंजीकृत थे। इनमें 22613 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल हुए। जबकि 1556 परीक्षार्थी पहले ही दिन परीक्षा से गायब रहे। राजकीय इंटर कॉलेज पैलानी में हाईस्कूल की छात्रा को आंतरिक सचल दल ने नकल करते रंगे हाथों पकड़ा। उसके खिलाफ रस्टीकेट की कार्रवाई की गई है। वहीं दूसरी पाली में इंटरमीडिएट हिदी विषय में पंजीकृत 10927 परीक्षार्थियों में 10443 ने उपस्थिति दर्ज कराई। इस पाली में 484 परीक्षार्थी परीक्षा देने नहीं पहुंचे। वहीं इंटर सामान्य हिदी में पंजीकृत 7913 में 264 छात्र-छात्राएं नहीं पहुंच सके। 7649 परीक्षार्थी ही शामिल हो सके। परीक्षा को नकल विहीन कराने के लिए डीआईओएस विनोद सिंह पूरी ब्यूह रचना तैयार की थी। उड़नदस्ता की पांच टीमें विद्यालयों में निगरानी करती रहीं। इसके अलावा सेक्टर व स्टेटिक मजिस्ट्रेट्रों ने भी परीक्षा में पूरे समय निगाह रखी। लेकिन इन दलों को कोई नकलची हाथ नहीं लगे।

-----------

61 परीक्षा केंद्रों में हुई ऑनलाइन निगरानी

बोर्ड परीक्षा के लिए बनाए गए कंट्रोल रूम से सभी केंद्रों से जोड़ा गया था। यहां से वायस रिकार्डर व सीसीटीवी कैमरों के जरिए पल-पल की निगाह रखी गई। जिले में ऐसा पहली बार हुआ है कि किसी भी केंद्र में किसी भी कक्ष की निगरानी बेहतर हुई। हालांकि संगम उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में डाटा खत्म होने से कुछ देर के लिए दिक्कत आई। वहीं राजकीय इंटर कॉलेज बांदा में डेस्क स्लिप में परीक्षार्थी का नाम गलत होने से हंगामा हुआ। लेकिन स्टेटिक व सेक्टर मजिस्ट्रेट ने स्थिति तत्काल संभाली

--------

कहीं खुशी तो कहीं रहा गम

बोर्ड परीक्षा की तैयारियों में महीनों से जुटे परीक्षार्थियों के चेहरों पर कहीं गम तो कहीं खुशियां दिखी। अतर्रा के ब्रह्म विज्ञान की हाईस्कूल छात्रा श्रेया ने बताया कि उसने बेहतर तैयारी की थी। इसलिए कोई दिक्कत नहीं हुई। वहीं छात्रा श्रेया सोनी के चेहरे पर भी रौनक दिखी। कहा कि जो तैयारी की थी वही आया है। बेहतर पेपर हुआ है। अमर ज्योति इंटर कॉलेज, मूंगुस में दसवीं की परीक्षा देकर निकले रोहित कुमार बताया कि पेपर में गद्यांशों के अंशों में से एक के नीचे दिए गए प्रश्नों के उत्तर देना था। हिदी का प्रश्न पत्र न बहुत ही सरल था और न ही कठिन। यहीं की दसवीं की छात्रा शतरूपा ने बताया कि कृतियों के रचनाकार के लेखक का नाम लिखना था। पेपर सरल था। उसने सभी प्रश्न हल किए हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस