संवाद सहयोगी, नरैनी : एक सप्ताह पूर्व खनिज व पुलिस विभाग ने संयुक्त चेकिंग चलाकर 30 ओवरलोडेड ट्रकों को सीज किया। इन ट्रकों पर कार्रवाई के साथ ही इन्हें अतर्रा-नरैनी मार्ग पर खड़ा करा दिया। एक सप्ताह बीत जाने के बाद भी ये ट्रक चालक अपना वाहन लेने नहीं आए और न ही प्रशासन की ओर से इन्हें कहीं और खड़ा कराने की व्यवस्था की गई। सड़क किनारे खड़े ये ट्रक अब लोगों के लिए परेशानी का सबब बन रहे है। खासकर व्यापारियों के लिए जिनकी दुकानों के सामने ये खड़े है। ट्रक खड़े होने से उनका कारोबार प्रभावित हो रहा है तो वहीं राहगीरों को भी दिक्कत का समाना करना पड़ रहा है लोगों को कहना है कि सड़क किनारे ट्रक खड़े होने से सड़क संकुचित हो गई है। यहां से निकलने पर जाम के साथ ही हादसे की स्थिति बन जाती है।

डीएम से की ट्रक हटवाने की मांग

स्थानीय कस्बा के व्यापारी नत्थू, रफीक, बाबू, राजकुमार, रामशरण, रहीम बख्श, लल्लू, राकेश, राजकुमार आदि ने जिलाधिकारी से इन ट्रकों को हटवाने की मांग की। व्यापारियों का कहना है कि ट्रक खड़े होने से दिनभर जाम की स्थिति बनी रही है। आवागमन बाधित होता है। इन्हें शीघ्र हटवाकर कहीं और खड़ा कराया जाए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस