बलरामपुर : कोरोना संक्रमण के प्रभाव को कम करने के लिए सरकारी कार्यालयों में आमजन के आने पर रोक है। कार्यालय में सीधे कोई प्रार्थना पत्र अधिकारी नहीं ले रहे हैं। कार्यालय गेट पर बॉक्स में प्रार्थना पत्र डाल कर फरियादी लौट जाते हैं। ऐसे में ऑनलाइन शिकायतें बढ़ी हैं। जनसुनवाई प्रणाली पर शिकायतों के निस्तारण में 37 अधिकारी डिफाल्टर मिले हैं। जिसे गंभीरता से लेते हुए जिलाधिकारी कृष्णा करुणेश ने सभी का एक दिन का वेतन रोकने का निर्देश दिया है। साथ ही सभी से स्पष्टीकरण भी तलब किया है।

डीएम ने बताया कि जनसुनवाई प्रणाली, ऑनलाइन व मुख्यमंत्री हेल्पलाइन के मामलों के निस्तारण की समीक्षा में बीएसए, डीपीआरओ, एसडीएम सदर, बीडीओ गैंसड़ी समेत 37 अधिकारी हैं। जो तय समय के भीतर 219 मामलों का निस्तारण नहीं किया। सभी से तीन दिवस में जवाब तलब किया है। संतोषजनक जवाब न मिलने पर कार्रवाई की जाएगी। साथ ही लंबित मामलों का निस्तारण समय से करने की चेतावनी दी गई है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस