बलरामपुर :

कजरी तीज पर भोलेनाथ के जलाभिषेक के लिए सोमवार को शिवमंदिरों में कांवड़ियों की भीड़ उमड़ेगी। बैद्यनाथ कांवड़ संघ 34वीं विशाल पदयात्रा निकालकर राप्ती नदी के सिसई घाट से राजापुर भरिया जंगल स्थित कल्पेश्वर नाथ पहुंचकर जलाभिषेक करेगा। नगर में कांवड़ियों के स्वागत व जलपान को लेकर लोगों में उत्साह है। सदर विधायक पल्टूराम ने रविवार को कांवड़ यात्रा मार्ग का निरीक्षण किया। कुआंनो गुमड़ी घाट का जायजा लेकर व्यवस्था दुरुस्त करने का निर्देश दिया। कांवड़ में शामिल होने के लिए बाजारों में शिवभक्तों ने बोल बम के पोशाक की जमकर खरीदारी की। बिजलीपुर से राजापुर भरिया जंगल के बीच कई स्थानों पर स्टाल लगाकर कावंड़ियों के स्वागत व जलपान की व्यवस्था रहेगी। कांवड़ यात्रा व मंदिरों में श्रद्धालुओं की भीड़ के मद्देनजर प्रशासन ने भी कमर कस ली है। नगर के झारखंडी मंदिर, झारखंडेश्वर नाथ महादेव, गिधरैंया स्थित रेणुकानाथ मंदिर, पचपेड़वा के शिवगढ़ धाम, उतरौला के दु:खहरण नाथ, शिवगढ़ी मंदिर, पिपलेश्वर महादेव मंदिर, पंचवटी मंदिर, मौनीदास मंदिर समेत ग्रामीण क्षेत्रों में भी शिवमंदिरों को आकर्षक ढंग से सजाया गया है।

कजरीतीज व गणेश चतुर्थी पर नगर पालिका प्रशासन चाक चौबंद व्यवस्था करेगा। नपाप अध्यक्ष किताबुन्निशा ने अधिकारियों व कर्मचारियों की बैठक में कहाकि श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए जनरेटर के माध्यम से ट्यूबलाइट व हाईमास्ट की व्यवस्था की जाए। सभी धार्मिक स्थल व आसपास सफाई व चूने का छिड़काव किया जाएगा। सभी ट्यूबवेल को क्रियाशील कर बिजली न रहने पर जनरेटर से जलापूर्ति करने का निर्देश दिया। अध्यक्ष प्रतिनिधि शाबान अली, ईओ राकेश जायसवाल, सफाई निरीक्षक बहोरन सिंह, शैलेंद्र कुमार, जेई आरके पुरी, सुरेश गुप्त मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप