सादुल्लाहनगर (बलरामपुर) : क्षेत्र के ग्राम पंचायत विशुनपुर खरहना के मजरे हनुमानपुरवा के ग्रामीणों को बिजली की रोशनी नसीब नहीं हो सकी है। करीब ढाई वर्ष पूर्व ठेकेदार ने खंभे लगाकर ट्रांसफार्मर तो खड़े कर दिए, लेकिन तार नहीं खींचे गए। जिससे ग्रामीण ढिबरी की रोशनी में जीने को विवश हैं।

ओमप्रकाश वर्मा, रंगीलाल, महेश कुमार, राजेंद्र प्रसाद का कहना है कि गांव का विद्युतीकरण शुरु हुआ तो बल्ब की रोशनी की आस जगी थी, लेकिन ठेकेदार व अधिकारियों की उदासीनता के चलते उम्मीदों पर पानी फिर गया। अमरेश शुक्ल, मलखान शर्मा, वीरेंद्र कुमार, रामलाल ने बताया कि बिजली न होने से बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है। कई बार शिकायत की गई, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। इसी तरह क्षेत्र के सरायखास, नौडिहवा, लालपुर व भलुहिया गांवों का भी विद्युतीकरण पूरा नहीं हो सका है। अधिशासी अभियंता सुनील कुमार का कहना है कि योजनाओं के तहत गांवों का विद्युतीकरण पूरा कराया जाएगा।

Posted By: Jagran