बलरामपुर [मंगल देव गिरि]। चार नगर निकायों के 35 हजार घरों में नई पाइप लाइन बिछाने की तैयारी है। हर घर जल नल योजना से 172 करोड़ रुपये खर्च करने की कार्ययोजना तैयार की गई है। नौ जलाशयों व 30 नलकूपों का निर्माण कराने के साथ चारों नगरों में 269 किमी लंबी पाइप लाइन बिछाई जाएगी। कार्यदायी संस्था जल निगम शहरी अमृत 2.0 योजना के तहत नई कालोनी व वार्डों में बसने वाले लोगों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने की जिम्मेदारी दी गई है। चालू वित्तीय वर्ष में बजट मिलने की संभावना जताई जा रही है।

वित्तीय वर्ष 2022-23 में नगर पालिका परिषद बलरामपुर व उतरौला और नगर पंचायत तुलसीपुर एवं पचपेड़वा में नए बसावटों में हर घर नल से जल योजना के तहत पाइप लाइन बिछाने, ओवरहेड टैंकों के निर्माण कराया जाएगा। 

दिए जाएंगे नए कनेक्शन

बलरामपुर में 57 करोड़ 58 लाख पांच हजार रुपये खर्च किया जाएगा। जलकल परिसर गदुरहवा में 1200 व भगवतीगंज में 700 किलोलीटर क्षमता वाली पानी की टंकियों का निर्माण होगा। सभी 25 वार्डों के 16 हजार घरों में 95.975 किलोमीटर लंबी पाइप लाइन बिछाकर नए कनेक्शन दिए जाएंगे। 

उतरौला के सभी 25 वार्डों में 32 करोड़ 53 लाख दो हजार रुपये में दो जलाशयों, सात नलकूपों, 62.973 किलोमीटर लंबी पाइपलाइन व 5500 मकानों में कनेक्शन जोड़ने की तैयारी है। नगर पंचायत तुलसीपुर के 15 वार्डों में 42 करोड़ 93 लाख 57 हजार रुपये में दो जलाशयों, आठ नए व छह रिबोर वाले नलकूपों, 63.62 किलोमीटर लंबी पाइप लाइन बिछाई जाएगी।

साथ ही सात हजार घरों को कनेक्शन दिया जाएगा। पचपेड़वा के 12 वार्डों में 29 करोड़ 25 लाख 76 हजार रुपये से तीन जलाशयों, चार नए व तीन रिबोर कराने वाले नलकूपों के निर्माण और पांच हजार घरों में 45.725 किलोमीटर लंबी पाइप लाइन बिछाई जाएगी। 

2024 तक पूरा होगा कार्य

जल निगम के अधिशाषी अभियंता मोहम्मद जियाउल हक ने कहा, जिले के चारों नगर निकायों में वंचित घरों में नए कनेक्शन जोड़ने के लिए शासन को प्रस्ताव भेजा गया है। समय से बजट मिलने पर वर्ष 2024 तक कार्य पूरा होने की संभावना है। 

Edited By: Rakesh Kashyap

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट