बलरामपुर :

जिले में बकरीद का त्योहार सोमवार को हर्षोल्लास से मनाया गया। ईदगाह व मस्जिदों में ईदुल अजहा की नमाज अदाकर लोगों ने अमन-चैन व देश की सलामती की दुआ मांगी। नगर के कालिया मस्जिद, बीबी बांदी याहिबा मस्जिद, बड़ा ईदगाह पर बकरीद की नमाज पढ़ने के बाद गले मिल एक-दूसरे को मुबारक बाद दी। शाम होते ही घरों में दावत का सिलसिला शुरु हो गया, जो देर रात चलता रहा। उतरौला में ईदगाहों में नमाज अदा की। अल्लाह के हुक्म के मुताबिक कुर्बानी देकर नेमतों से मालामाल होने की दुआएं मांगी। बड़े ईदगाह में नमाजियों से मुखातिब जामा मस्जिद के मौलाना मुफ्ती जमील अहमद ने कहाकि ईदुज्जुहा का मतलब दीन, ईमान, मुल्क व चाहने वालों के लिए कुर्बानी देना है। हर मुसलमान पर कुर्बानी आयद है ताकि इससे सबक लेकर जरूरत पड़ने पर अपनी या अपने अजीज की कुर्बानी देने से पीछे न हटे। अंजुमन मस्जिद, गौसिया, गोंडा मोड़, मदरसा अली हसन, शिया मस्जिद, अहले हदीस, बशीर मस्जिद, रमवापुर कला, पकड़ी, महिली, पेहर, जाफराबाद समेत ग्रामीण क्षेत्रों में परंपरागत तरीके से बकरीद मनाई गई। मंडलायुक्त महेंद्र कुमार, डीआइजी राकेश सिंह, डीएम कृष्णा करुणेश व एसपी देवरंजन वर्मा ने क्षेत्र भ्रमण कर सुरक्षा व्यवस्था देखी। महदेइया क्षेत्र के चमरूपुर, पेहर, महुआ बाजार, पेहर में भी बकरीद की नमाज पढ़ी गई। गैंसड़ी बाजार के राजाबाग व बड़ी मस्जिद में लोगों ने नमाज अदा की। हरैया क्षेत्र में बकरीद की नमाज हरैया, महमूदनगर, मणिपुर बाजार, शिवपुरा, बल्देवनगर, मंगराकोहल व कोंड़री बाजार स्थित मस्जिद में नमाज अदा की। पीर हनीफ शरीफ दरगाह में तीन दिवसीय मेले का आयोजन किया गया। साहदुल्लाहनगर, ललिया, महराजगंजतराई, तुलसीपुर व पचपेड़वा में बकरीद की नमाज कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच पढ़ी गई।

नगर पालिका परिषद बलरामपुर प्रशासन ने विशेष व्यवस्था की। चेयरमैन प्रतिनिधि शाबान अली ने बताया कि ईदगाह व मस्जिदों के पास प्याऊ लगाया। नमाजियों को मिठाई व पानी पिलाकर बकरीद की बधाई दी।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप