जागरण संवाददाता, बलिया: प्रभारी मंत्री अनिल राजभर ने कहा कि आगामी दिनों में नगर पंचायत बनने वाली नगरा व रतसर में व्यवस्था सुदृढ़ करने पर अभी से काम शुरू हो जाए। पानी निकासी की व्यवस्था के साथ पर्याप्त रोड लाइट, सड़कों की मरम्मत आदि का खाका खींच लिया जाए। इसके लिए जिला प्रशासन प्रस्ताव बनाकर भेजे, ताकि नगरा व रतसर को नगर जैसी सुविधाओं से लैस किया जा सके। प्रभारी मंत्री सोमवार को डाकबंगले में डीएम, एसपी, सीडीओ व अन्य प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठक में ये बातें कहीं।

उन्होंने कानून-व्यवस्था व विकास कार्यों की प्रगति के बारे में जानकारी ली। खासतौर पर आगामी दिनों में नगर पंचायत बनने वाली नगरा व रतसर की प्रगति के बारे में भी जाना।जिलाधिकारी ने बताया कि नगरा के लिए सुझाव/आपत्ति प्राप्त करने के लिए अधिसूचना जारी हो गई है। जो आपत्ति आएगी उसे शासन को भेजा जाएगा और फिर वहां से निराकरण के बाद अंतिम अधिसूचना जारी होगी। वहीं, रतसर के लिए सुझाव या आपत्ति लेने के लिए अधिसूचना जल्द ही जारी होगी। डीएम ने यह भी बताया कि नगरा व रतसर में फिलहाल कूड़ा कलेक्शन, रोड लाइट और ड्रेनेज की बेहतर व्यवस्था पर हमारा पूरा जोर है।

बैठक में अन्य कुछ नगर पंचायतों के सीमा विस्तार पर भी चर्चा हुई। नगर पालिका परिषद की सीमा विस्तार के बाबत जिलाधिकारी ने बताया कि नपा बोर्ड से प्रस्ताव पास हो गया है, लेकिन इस पर अभी भी एक्सरसाइज करने की जरूरत है। जहां सीमा विस्तार का प्रस्ताव है, संबंधित तहसीलदार और अधिशासी अधिकारी की टीम को गाटावार डिटेल तैयार करने का निर्देश दिया गया है।

भव्य हो गंगा यात्रा इस पर हमारा फोकस

बैठक में डीएम श्रीहरि प्रताप शाही ने गंगा यात्रा की तैयारियों के बारे में विस्तृत जानकारी दी। बताया कि इस यात्रा की भव्यता पर हमारा पूरा जोर है। यात्रा कोड़हरा नौबरार से शुरू होगी और जगह-जगह स्वागत सभा होगी। बैठक में एसपी देवेंद्र नाथ, सीडीओ बद्रीनाथ सिंह सिटी मजिस्ट्रेट बृज किशोर दूबे, एसडीएम रसड़ा विपिन कुमार जैन, एसडीएम बाँसडीह दुष्यंत मौर्य, तहसीलदार सदर शिवसागर दूबे आदि मौजूद थे। महुली से दूबेछपरा तक जल मार्ग से आएगी गंगा यात्रा

गंगा यात्रा की तैयारियों को लेकर कलेक्ट्रेट सभागार में सोमवार को बैठक हुई। इसमें मुख्य विकास अधिकारी बद्रीनाथ सिंह ने खंड विकास अधिकारियों और अधिशासी अधिकारियों को जरूरी जिम्मेदारी सौंपी। अपर पुलिस अधीक्षक संजय कुमार ने भी जरूरी मुद्दों पर चर्चा की और दिशा निर्देश दिए। सीडीओ ने बताया कि यात्रा जेपीनगर के पास महुली घाट से शुरू होगी और दूबेछपरा तक जलमार्ग से आएगी। वहां से सड़क मार्ग से यात्रा आगे बढ़ेगी। इस बीच पड़ने वाले पांच विकास खंड के खंड विकास अधिकारियों को उन्होंने व्यवस्था संबंधी जिम्मेदारी सौंपी। प्रभातफेरी आदि के लिए बेसिक शिक्षा और माध्यमिक शिक्षा विभाग के अधिकारी को जरूरी दिशा-निर्देश दिए। डीपीआरओ को साफ सफाई की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए गए। बैठक में डीएफओ श्रद्धा यादव, ईओ दिनेश विश्वकर्मा आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस