जागरण संवाददाता, रेवती (बलिया) : विकास खंड अंतर्गत शीरीछपरा (छेड़ी) के पासवान बस्ती के ग्रामीण एक अदद पुलिया के लिए तरस रहे हैं। करीब एक वर्ष से जुगाड़ की पुलिया के सहारे आवागमन किया जा रहा है। अवदान बाबा स्थान से बलिहार गांव तक 2.5 किमी लंबे संपर्क मार्ग पर बनी पुलिया पिछले वर्ष ध्वस्त हो गई। यमुना ड्रेन पर बनी इस पुलिया के टूटने से आधा दर्जन गांवों के लोगों का आवागमन प्रभावित हो गया। उक्त पुलिया से शीरीछपरा, छेड़ी, चौबेछपरा, बलिहार, नवकागांव, अचलगढ़, मानसीछपरा आदि गांवों के लोग आते जाते हैं। जो अब बाधित हो गया है। ग्रामीणों ने शासन, प्रशासन का ध्यान आकृष्ट कराते हुए निर्माण कराने की मांग की है।

शीरीछपरा निवासी सुरेन्द्र पासवान ने बताया कि पुलिया की मरम्मत के लिए कई बार क्षेत्रीय विधायक सुरेन्द्र सिंह से निवेदन किया गया लेकिन गंवई राजनीति के चक्कर में निर्माण नहीं हो पा रहा है। नथुनी पासवान ने बताया दो सौ परिवार व 1200 की आबादी वाले गांव के लोगों को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है। हरिद्वार पासवान ने बताया कि अब तक दर्जनों लोग पुलिया से गिर कर घायल हो चुके हैं। बच्चों को लेकर भय बना रहता है। पुलिया से गिरने पर तेज धार में डूबने का अंदेशा बना रहता है। देवेंद्र पासवान ने बताया कि इस पिछले एक साल से आना जाना बंद है। किसी तरह काम चलाया जा रहा है। सब कुद जानने के बाद भी कोई ध्यान नहीं दे रहा है। जिला प्रशासन बड़े हादसे का इंतजार कर रहा है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप