जागरण संवाददाता, बलिया : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम के मद्देनजर सोमवार की देर शाम सुरक्षा बलों ने कमान संभाल ली। इस बाबत पुलिस अफसरों को अलग-अलग दायित्व सौंपे गए हैं। अपर पुलिस महानिदेशक वाराणसी पीवी रामा शास्त्री ने सोमवार को पुलिस लाइन के आरडी त्रिपाठी हाल में पुलिस ब्रीफिग करने के साथ ही सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की। इस दौरान सुरक्षा के लिए आई केंद्रीय फोर्स के अधिकारी भी मौजूद थे।

एडीजी ने कहा कि बड़ा कार्यक्रम होने के नाते हर कठिनाइयों का निराकरण आसानी से करने में सक्षम होना चाहिए। पूरा फोकस भीड़ के नियंत्रण पर करना है। भीड़ का मैनेजमेंट बेहतर तरीके से होना चाहिए। ड्यूटी के दौरान अपने व्यवहार को मृदुल रखें। इस बात का विशेष ख्याल रखें कि किसी भी आम जनता को कोई परेशानी न हो। उन्होंने स्पष्ट किया कि वीआइपी गैलरी या मीडिया गैलरी में कोई भी अनाधिकृत व्यक्ति का प्रवेश नहीं होना चाहिए। एक जगह ज्यादा भीड़ इकट्ठा न हो। ड्यूटी में लगे सभी अधिकारी आपस में समन्वय बना लेंगे। कम्युनिकेशन गैप नहीं होना चाहिए। बैरिकेडिग के लिए लगाई गई बल्लियों पर कोई चढ़े नहीं। एडीजी ने कहा कि पार्किंग के लिए जो स्थल निर्धारित किया गया है वाहन वहीं खड़े हों। यातायात पुलिस वाहनों की पार्किंग स्थल पर भेजती रहे। यातायात को लेकर दिए निर्देश

शहर की व्यवस्था गड़बड़ न हो। इसको लेकर पीएसी और आरएएफ की फोर्स भी तत्पर रहेगी। पुलिस पेट्रोलिग लगातार चलती रहे। शहर में जाम की स्थिति न हो इसको लेकर भी यातायात पुलिस तत्पर रहेगी। डीआइजी मनोज कुमार तिवारी ने कहा कि ड्यूटी के दौरान जोश और हौसला बनाए रखेंगे। समय से अपनी ड्यूटी पर मौजूद रहेंगे। कार्यक्रम समाप्त होने के बाद भी जब तक भीड़ वहां से चली न जाए तब तक ड्यूटी से नहीं हटेंगे। बैठक में जिलाधिकारी भवानी सिंह खंगारौत, एसपी देवेंद्र नाथ, एएसपी विजयपाल सिंह समेत केंद्रीय फोर्स के अधिकारी थे।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप