जागरण संवाददाता, बलिया : जिले में बुधवार को 73वां गणतंत्र दिवस धूमधाम से मनाया गया। सभी सरकारी व गैर सरकारी संस्थानों पर झंडारोहण के बाद गणतंत्र दिवस के महत्व को रेखांकित किया गया। पुलिस लाइन में आयोजित मुख्य कार्यक्रम में शानदार परेड का आयोजन हुआ। परेड की सलामी मुख्य अतिथि जिलाधिकारी इंद्र विक्रम सिंह व पुलिस अधीक्षक राजकरन नय्यर ने ली। उन्होंने तिरंगे रूपी गुब्बारे के साथ शांति के प्रतीक के रूप में कबूतर छोड़े। उत्कृष्ट कार्य करने वाले पुलिस के बहादुर जवानों को प्रशस्ति पत्र व मेडल भी दिया गया। जिलाधिकारी ने कहा कि देश की स्वतंत्रता के लिए अनेक सेनानियों ने कुर्बानियां दी हैं। उन्हीं की बदौलत आज चमकते सूरज के नीचे सभी गणतंत्र दिवस का आनंद ले पा रहे हैं। भरोसा दिलाया कि न्यायिक, प्रशासनिक, पुलिस, मीडिया के साथ जनसहयोग से बलिया को नई ऊंचाइयों पर ले जाने का प्रयास किया जाएगा। जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद में मतदान का औसत लगभग 60 फीसद होता है। यानी 40 फीसदी लोग बूथों तक नहीं जाते हैं। इस स्थिति में सुधार लाना है। समस्त जनपदवासी यह संकल्प लें कि इस बार एक-एक मतदाता बूथ तक जाएंगे और लोकतंत्र में अपनी भागीदारी सुनिश्चित कराएंगे। उन्होंने शानदार परेड के लिए सभी कमांडर व आरक्षियों की सराहना की।

एसपी ने दिलाई एकता-अखंडता बनाए रखने की शपथ-- पुलिस अधीक्षक राजकरण नय्यर ने सभी को एकता-अखंडता बनाए रखने की शपथ दिलाई। कार्यक्रम में स्कूली बच्चों ने एक से बढ़कर एक देशभक्ति पर आधारित सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए। स्नेहा डे ने कथक नृत्य से सबका मन मोह लिया। सेनानी व उनके आश्रितों को सम्मानित भी किया गया। इस अवसर पर जिला जज विकार अहमद अंसारी, एडीएम राजेश कुमार, एएसपी विजय त्रिपाठी, सीओ प्रीति त्रिपाठी, सूचना अधिकारी अनुराग रंजन सहित अन्य न्यायिक, प्रशासनिक व पुलिस अधिकारियों के साथ अन्य लोग मौजूद थे।

-----

सेनानी व उनके आश्रितों को अंगवस्त्रम देकर किया सम्मानित --

कलेक्ट्रेट में जिलाधिकारी इंद्र विक्रम सिंह ने झंडारोहण करने के बाद कर्मचारियों को भारत की प्रभुता व अखंडता अक्षुण्य रखने की शपथ दिलाई। इसके बाद कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित गोष्ठी में सेनानी व उनके आश्रितों को अंगवस्त्रम देकर सम्मानित किया। सेनानी रामविचार पांडेय ने कहा कि गणतंत्र तभी लागू हुआ, जब देश स्वतंत्र हुआ। स्वतंत्रता आंदोलन की क्रांतिकारी यादों को भी साझा किया। एडीएम राजेश कुमार व अन्य अधिकारी-कर्मचारी मौजूद रहे।

सेनानी के घर जाकर किया सम्मान -- सिकंदरपुर क्षेत्र के खरीद निवासी स्वतंत्रता सेनानी रामरक्षा गोंड को स्थानीय प्रशासन ने घर परअंगवस्त्रम भेंट कर सम्मानित किया। नायब तहसीलदार सुनील कुमार, लेखपाल मनोज यादव, लेखपाल सचिन यादव सहित ग्रामीण मौजूद थे।

Edited By: Jagran