जासं,बलिया : उप्र शिक्षक महासंघ के बैनर तले शुक्रवार को विभिन्न मांगों के समर्थन में माध्यमिक प्रधानाचार्य परिषद, उच्च प्राथमिक व प्राथमिक शिक्षक संघ ने जिलाधिकारी कार्यालय के समक्ष धरना दिया। साथ ही 12 सूत्रीय मांगों के संबंधित पत्रक डीएम को सौंपा गया।

अध्यक्षता करते हुए प्राशिसं के जिलाध्यक्ष अवधेश सिंह ने कहा कि जिस भाजपा सरकार को हम सबने समर्थन देकर सत्ता में पहुंचाया था कि वह समाज के सभी वर्गों के हितों का ख्याल रखते हुए कल्याणकारी कार्य करेगी। वह शिक्षकों, कर्मचारियों के लिए सर्वाधिक घातक सिद्ध हो रही है। धर्मनाथ सिंह ने कहा कि सरकार कर्तव्यनिष्ठ शिक्षकों को बदनाम करके तथा शिक्षालयों को निजी हाथों में सौंपने व सस्ती लोकप्रियता हासिल करने का कुचक्र रच रही है। कहा कि एकजुटता व लंबे संघर्षों से प्राप्त उपलब्धियों की रक्षा के लिए शिक्षक व कर्मचारी जान लड़ा देंगे।

प्रमुख मांगों में परिवार कल्याण प्रोत्साहन, प्रेरणा एप, वित्तविहीन विद्यालयों के शिक्षकों कर्मचारियों को समान कार्य के लिए समान वेतन, सामूहिक बीमा की कटौती, शिक्षामित्रों के समायोजन आदि शामिल है। इस मौके पर प्राचार्य अशोक श्रीवास्तव, सुरेंद्र सिंह, अरुण ओझा, अविनाश उपाध्याय, अजय सिंह, मीरा सिंह, घनश्याम चौबे, संगीता चौबे, कविता सिंह, डा.बृजेश सिंह, डा.रंगनाथ मिश्र, रवींद्र नाथ, समीर पांडेय, जितेंद्र सिंह, राजेश पांडेय आदि मौजूद थे। संचालन राधेश्याम पांडेय ने किया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप