जागरण संवाददाता, बलिया : कोरोनारोधी टीकाकरण में 75वें स्थान पर बलिया को ऊपर ले जाने के लिए स्वास्थ्यकर्मियों को मशक्कत करनी पड़ रही है। गांवों में कई लोग ऐसे भी मिल रहे हैं जो टीकाकरण टीम से देखते ही क्रोधित हो जा रहे हैं। कोई जमीन पर लेट जा रहा है तो कोई हाथ जोड़कर छोड़ देने की गुहार लगा रहा है, लेकिन टीकाकरण वाली टीम किसी भी हाल में वैक्सीनेशन के लिए अडिग है। वैक्सीनेशन में अब जिला ग्रीन जोन में पहुंच गया है। प्रदेश के 75 जिले में बलिया का 34वां स्थान है। जिले में टीकाकरण का लक्ष्य 24.21 लाख था। 97.5 फीसद यानि 23.49 लाख लोगों को टीका लगाया जा चुका है। चिकित्सक भी मानते हैं कि टीकाकरण के चलते ही कोरोना संक्रमण की तेज गति होने के बाद भी इस बार एक भी मौत के मामले सामने नहीं आए हैं।

---------------

11 मई को मिला था पहला केस

जिले में कोरोना का पहला केस 11 मई 2020 को मिला था। 31 दिसंबर तक 2020 तक जिले में 7130 लोग कोरोना संक्रमण का शिकार हुए थे। उसमें से 99 लोगों की मौत हुई थी। कोरोना की दूसरी लहर मार्च 2021 से शुरू हुई। संक्रमण का दायरा और तेजी से बढ़ा और दिसंबर 2021 तक 135 की मौत हुई। अब नए साल 2022 में जनवरी से ही संक्रमित मिलने लगे हैं। अभी के समय में 342 एक्टिव केस हैं। इस बार रिकवरी तेजी से हो रही है।

-------------

पटका-पटकी के बाद और सक्रिय हुई टीम

लमुहीं ग्राम सभा के सामने सरयू तट पर वैक्सीनेशन टीम के सदस्य से एक नाविक ने हाथापाई कर जमीन पर गिरा दिया। वैक्सीनेशन टीम के सदस्य ने नाविक को टीकाकरण के लिए बुलाया, लेकिन नाव पर सवार नाविक ने टीका लेने से इन्कार कर दिया। बार-बार बुलाए जाने से नाराज नाविक नाव से कूदकर वैक्सीनेशन टीम के सदस्य के साथ पटका-पटकी शुरू कर दी। स्वास्थ्य कर्मी को नदी किनारे जमीन पर पटक दिया, लेकिन वैक्सीनेशन टीम ने उसे टीका लगाकर ही छोड़ा। घटना का वीडियो भी खूब वायरल हुआ।

------------

पेड़ पर चढ़ा था युवक, अब ले रहे सब मजा

रेवती क्षेत्र में ही एक युवक टीकाकरण टीम को देखते ही पेड़ पर चढ़ गया था। नीचे से स्वास्थ्य विभाग की टीम और गांव के लोग उसे काफी देर तक बुलते रहे, लेकिन वह नीचे नहीं उतरा। अंतत: उसे पेड़ पर चढ़कर उतारने का प्रयास किया जाने लगा, तब से नीचे आया और टीका लगवाया। अब उक्त गांव के लोग उक्त युवा की हरकत पर खूब मजा ले रहे हैं।

-------------

टीकाकरण में उम्रवार यह है स्थिति 2421821 : टीकाकरण का लक्ष्य।

2349533 : प्रथम डोज, 97.5 प्रतिशत।

1434735 : द्वितीय डोज, 59.24 प्रतिशत।

---------------

308052 : 60 प्लस लोगों की संख्या।

329432 : प्रथम डोज, 106.94 प्रतिशत।

239072 : द्वितीय डोज, 77.61 प्रतिशत।

---------------

475389 : 45 से 59 उम्र के लोगों की संख्या।

521709 : प्रथम डोज, 109.74 प्रतिशत।

263052 : द्वितीय डोज, 76.06 प्रतिशत।

---------------

1638380 : 18 से 44 वर्ष के युवाओं की संख्या।

1474968 : प्रथम डोज, 90.03 प्रतिशत

824400 : द्वितीय डोज, 50.32 प्रतिशत।

------------------

227224 : 15 से 17 साले के किशारों की संख्या

143366 : प्रथम डोज, 63.09 प्रतिशत ----------------

-वैक्सीन के चलते ही जिले में खतरा कम हुआ है। ऐसे में वक्सीन लगवाने से किसी को भी मना नहीं करनी चाहिए। स्वास्थ्य विभाग की टीम का सम्मान करते हुए टीका लगवाना चाहिए। --- डा. एके तिवारी, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी

------------

-टीकाकरण के प्रति सभी लोग जागरूक हुए हैं। स्वास्थ्य विभाग की टीम भी मेहनत कर रही है। इससे वैक्सीनेशन में हम लगातार आगे जा रहे हैं। इसमें शिक्षा विभाग का सहयोग भी सराहनीय है। -- डा. नीरज कुमार पांडेय, सीएमओ

Edited By: Jagran