जागरण संवाददाता, बलिया : कोई संदेह नहीं कि बैरिया तहसील क्षेत्र का नौरंगा, भुवाल छपरा गांव सरकार की हर सुविधाओं के मामले में उपेक्षित रहा है। इसकी सबसे बड़ी वजह इन गांवों का कस्बों से संपर्क नहीं होना है। लेकिन अब, दयाछपरा के सामने नौरंगा घाट पर पक्के पुल की उम्मीद ने डूबते को तिनके का सहारा देने का काम किया है। जी हां, इसके लिए भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद डॉ. विनय सहस्त्रबुद्धे ने परिवहन मंत्री नितिन गडकरी को पत्र लिखकर नौरंगा घाट पर पक्के पुल का निर्माण कराने का अनुरोध किया है। उन्होंने उन गांवों के करीब 20 हजार आबादी के दु:ख-दर्द का भी विस्तृत उल्लेख किया है।

पत्र के माध्यम से बताया है कि 2017 के विधानसभा चुनाव में गांव में प्रचार के लिए गया था। तब वहां के लोगों से मिला, उनकी पीड़ा और संवेदनाओं को समझा। उन्होंने नितिन गडकरी को बताया है कि आजादी के बाद से ही इस गांव की जनता सड़क और पुल की आशा और उम्मीद लिए बैठी है, ताकि मूलभूत सुविधाओं को प्राप्त करने में उन्हें आसानी हो और मुख्यधारा से जुड़ सके।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप